Success story: मिलिए, बिना कोचिंग UPSC एग्‍जाम क्रैक करने वाली सर्जना यादव से, जानें सक्सेस मंत्र

0
19

हाइलाइट्स

  • सर्जना ने अपने तीसरे प्रयास में हासिल किया था 126वां रैंक।
  • दो साल जॉब के साथ की तैयारी, तीसरे साल घर पर रहकर की सेल्फ स्टडी।
  • सर्जना से जानें परीक्षा तैयारी के टिप्‍स।

IAS Success Story: प्रतिवर्ष संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) के सिविल सर्विस एग्जाम (Civil Service Exam) में लाखों उम्‍मीदवार शामिल होते हैं, लेकिन सफलता का प्रतिशत करीब 1 फीसदी ही रहता है। इनमें से ज्यादातर ऐसे होते हैं, जो कोचिंग पर लाखों रुपये खर्च देते हैं, लेकिन इसके बाद भी उन्‍हें सफलता नहीं मिलती है। इसका मुख्‍य कारण, इस परीक्षा की तैयारी करने के लिए रणनीति के बारे में जानकारी का अभाव होना है। UPSC परीक्षा को पास करने की रणनीति के बारे में जानने का सबसे अच्छा स्रोत एक IAS अधिकारी की तैयारी करने के तरीकों के बारे में जानना है। इसलिए यहां पर हम आपको एक ऐसे आईएएस अधिकारी की सक्‍सेस स्‍टोरी के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने बिना किसी कोचिंग के सेल्‍फ स्‍टडी के माध्‍यम से इस परीक्षा को क्रैक किया।

यह आईएएस अधिकारी हैं दिल्ली की सर्जना यादव। जिन्होंने नौकरी के साथ बिना कोचिंग के यूपीएससी एग्जाम की तैयारी की और अपने तीसरे प्रयास वर्ष 2019 में सिविल सेवा परीक्षा में 126 रैंक हासिल कर आईएएस बनीं।

बिना कोचिंग की तैयारी
यूपीएससी एग्जाम (UPSC Exam) बेहद मुश्किल होता है। इसलिए इस परीक्षा की तैयारी के लिए ज्‍यादातर उम्‍मीदवार कोचिंग ज्वाइन करते हैं। इसके लिए उन्‍हें लाखों रुपये खर्च करने पड़ते हैं। वहीं इस परीक्षा को लेकर सर्जना यादव का नजरिया कुछ और ही था। एक इंटरव्यू में सर्जना ने कहा कि यह उम्मीदवार की इच्छा पर निर्भर करता है कि वह कोचिंग लेना चाहता है या नहीं। अगर आपको लगता है कि आपके पास संपूर्ण स्टडी मटेरियल है और यूपीएससी के लिए आपकी रणनीति बेहतर है तो आप सेल्फ स्टडी पर भरोसा कर भी सफलता पा सकते हैं। वहीं, यदि व्यक्ति को लगता है कि वे कक्षा के वातावरण में बेहतर प्रदर्शन करने में सक्षम होंगे, तो उन्‍हें कोचिंग ज्‍वाइन करना चाहिए। हालांकि अगर आप अनुशासित और अपनी पढ़ाई के प्रति ईमानदार हैं, तो सेल्फ स्टडी ज्‍यादा बेहतर होता है।

Success Story: पटवारी से IPS अफसर तक का संघर्ष भरा सफर, 6 साल में हासिल की 12 सरकारी जॉब

सर्जना ने जॉब के साथ की एग्जाम की तैयारी
सर्जना यादव ने दिल्ली प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की। ग्रेजुएशन के बाद वह टीआरएआई में रिसर्च ऑफिसर के तौर पर काम करने लगीं। अपनी फुल टाइम जॉब के साथ-साथ सर्जना ने यूपीएससी एग्जाम की तैयारी की, लेकिन पहले दो प्रयासों में उन्हें सफलता नहीं मिली। उन्होंने हार नहीं मानी और गलतियों से काफी कुछ सीखा। सर्जना ने परीक्षा की बेहतर तैयारी के लिए 2018 में अपनी नौकरी छोड़ दी। वह कहती हैं कि नौकरी के साथ किये गए प्रयास में वह अपना पूरा ध्यान नहीं दे पा रही थी। लेकिन जब उन्होंने 2018 में अपनी नौकरी से इस्तीफा दे दिया तो उन्होंने पूर्णकालिक तैयारी शुरू कर दी। हालांकि इसके बावजूद उन्होंने कोचिंग ज्वाइन नहीं की और सेल्फ स्टडी पर भरोसा किया। सेल्फ स्टडी के जरिए सर्जना यादव ने साल 2019 में ऑल इंडिया में 126वीं रैंक हासिल कर अपना आईएएस अफसर बनने का सपना पूरा किया।

सर्जना से जानें, एग्‍जाम तैयारी के टिप्‍स
एक इंटरव्‍यू में उम्‍मीदवारों को इस एग्‍जाम की तैयारी का टिप्‍स देते हुए सर्जना यादव ने कहा कि उम्मीदवारों को इस एग्जाम की तैयारी के लिए अपनी क्षमता के अनुसार रणनीति बनानी चाहिए। तैयारी शुरू करने के साथ ही पढ़ाई के घंटे को भी तय कर लेना चाहिए। इस दौरान कोशिश करें किसी भी सब्जेक्ट को गहराई के साथ पढ़ें, ताकि कोई कंफ्यूजन न रह जाए। एक बार सिलेबस खत्म होने के बाद ज्यादा से ज्यादा रिवीजन और आंसर राइटिंग की प्रैक्टिस करें। असफलता से बिल्कुल नहीं घबराए, लगातार मेहनत करते रहें, आपको सफलता जरूर मिलेगी।

सीमित स्टडी मटेरियल से करें बेहतर तैयारी
सर्जना ने कहा कि यूपीएससी का सिलेबस बहुत विशाल है, इसलिए अगर आप प्रत्येक विषय के लिए 2-3 किताबें पढ़ेंगे, तो निर्धारित समय में सिलेबस पूरा करना मुश्किल हो जाएगा। उन्‍होंने कहा कि प्रत्येक विषय के लिए एक अच्छी किताब का चयन करें और उसे अच्छी तरह से पढ़े। साथ ही जरूरी नॉलेज के लिए गूगल की मदद ले सकते हैं।

मॉक टेस्‍ट पर रखें फोकस
सर्जना कहती हैं कि, कई उम्‍मीदवार सभी विषय के नोट्स बनाने में ज्‍यादा समय बर्बाद करते हैं, जबकि यह जरूरी नहीं है। हालांकि आईएएस उम्मीदवारों को मॉक टेस्ट देना बेहद जरूरी होता है। अपनी गलतियों में सुधार के लिए नियमित रूप से मॉक टेस्‍ट दें। साथ ही सिर्फ उन विषयों के नोट्स बनाएं, जो समझने में कठिन हैं और जिनके लंबे पैराग्राफ होते हैं। इससे आपका समय बचेगा।

RBI Jobs 2022: भारतीय रिजर्व बैंक में निकली भर्ती, ग्रेजुएट करें आवेदन, भत्तों के साथ 1 लाख से ज्यादा सैलरी

रोजाना अखबार जरूर पढ़ें
सर्जना कहती हैं कि इस परीक्षा की तैयारी कर रहे ज्‍यादातर उम्‍मीदवार या तो जॉब कर रहे होते हैं या फिर हाल ही में ग्रेजुएट होते है। इसलिए उन्हें रोजाना अखबार पढ़ने की आदत नहीं होती है। जबकि यह बेहद जरूरी होता है। उम्‍मीदवारों को रोजाना अखबार पढ़ने की आदत डालनी चाहिए। साथ ही आप ऑनलाइन वेबसाइट की मदद भी ले सकते हैं, जहां पर करेंट अफेयर्स की पूरी जानकारी मिलती हैं। सर्जना का यह भी मानना है कि आप भले ही कम घंटे पढ़ाई करें, लेकिन पूरा मन लगाकर चीजों को गहराई से पढ़ें। अगर आप क्वालिटी की पढ़ाई करेंगे तो सफलता की संभावना काफी बढ़ जाएगी।

Intelligence Bureau: IB में कैसे शामिल हो सकते हैं? जानें भर्ती प्रक्रिया और सैलरी के बारे में

Education News: एजुकेशन न्यूज, Latest Exam Notifications, Admit Cards and Results, Job Notification, Sarkari Exams, सरकारी जॉब्स, सरकारी रिजल्ट्स, Career Advice and Guidance, करियर खबरें `- Navbharat Times

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here