Omicron In Delhi: तीन नए ओमिक्रॉन संक्रमितों की पुष्टि, एक बार फिर 100 से ज्यादा कोरोना के मामले सामने आए

0
54

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: Vikas Kumar
Updated Wed, 22 Dec 2021 09:48 PM IST

सार

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि ओमिक्रॉन के अब तक जितने भी मामले सामने आए हैं उनमें तीन लोग ऐसे हैं जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है। यह लोग विदेश यात्रा पर नहीं गए थे। दिल्ली में ही किसी परिचित के संपर्क में आने के बाद यह कोरोना संक्रमित हुए और फिर इनमें ओमिक्रॉन संक्रमण की पुष्टि हुई।

कोरोना जांच के लिए सैंपल लेते कर्मी
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

राजधानी में ओमिक्रॉन संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। पिछले एक दिन में तीन और लोग संक्रमित मिले हैं जिसके बाद दिल्ली में ओमिक्रॉन के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 57 हो चुकी है। वहीं बुधवार की देर शाम राजधानी में लगातार दूसरे दिन 100 से ज्यादा लोगों के संक्रमित मिलने की जानकारी मिली है। स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि पिछले एक दिन में 125 लोग संक्रमित मिले हैं। जोकि बीते जून माह के बाद सबसे अधिक मामले हैं। पिछले दो दिन में ही देखें तो दिल्ली में 227 लोग कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। 

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पिछले एक दिन में 63,313 सैंपल की जांच की गई थी जिनमें 0.20 फीसदी सैंपल कोरोना संक्रमित मिले हैं। इस दौरान 58 मरीजों को छुट्टी दी गई है। फिलहाल राजधानी में एक बार फिर से सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 600 पार हो चुकी है। कुल सक्रिय मामले 624 में से 289 मरीज अपने अपने घरों में आइसोलेशन में हैं। जबकि 210 मरीजों का इलाज अस्पतालों में चल रहा है। इनके अलावा कंटेनमेंट जोन की संख्या भी बढ़कर 184 हो चुकी है। 

फिलहाल दिल्ली में कुल संक्रमण के मामले बढ़कर 14,42,515 हुए हैं जिनमें से 14,16,789 मरीज ठीक हुए हैं लेकिन 25,102 मरीजों की मौत हो चुकी है। पिछले एक दिन में 1.17 लाख लोगों ने वैक्सीन लिया है। अब तक 1.03 करोड़ लोग दोनों खुराक लेकर टीकाकरण पूरा कर चुके हैं। 

तीन लोग विदेश से संक्रमित नहीं हुए
स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि ओमिक्रॉन के अब तक जितने भी मामले सामने आए हैं उनमें तीन लोग ऐसे हैं जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है। यह लोग विदेश यात्रा पर नहीं गए थे। दिल्ली में ही किसी परिचित के संपर्क में आने के बाद यह कोरोना संक्रमित हुए और फिर इनमें ओमिक्रॉन संक्रमण की पुष्टि हुई। अब तक राजधानी में 17 ओमिक्रॉन संक्रमित मरीजों को छुट्टी भी दी जा चुकी है। हालांकि यह सभी अपने अपने घरों में क्वारंटीन हैं और चिकित्सीय निगरानी में भी चल रहे हैं। 

दिल्ली में शुरू हुई प्रत्येक सैंपल की सीक्वेंसिंग
स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि बुधवार से राजधानी में प्रत्येक कोरोना संक्रमित सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग शुरू हो चुकी है। केंद्र और दिल्ली सरकार की चार लैब में करीब 400 से 500 सैंपल की एकसाथ जांच करने की क्षमता है और इसका इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि रोजाना 100 से 125 सैंपल संक्रमित मिल रहे हैं जिन्हें जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा जा रहा है। दिल्ली सरकार के लोकनायक और आईएलबीएस अस्पताल में यह सुविधा है। जबकि केंद्र सरकार की एनसीडीसी सहित दो लैब इस कार्य में जुटी हुई हैं। 

विस्तार

राजधानी में ओमिक्रॉन संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। पिछले एक दिन में तीन और लोग संक्रमित मिले हैं जिसके बाद दिल्ली में ओमिक्रॉन के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 57 हो चुकी है। वहीं बुधवार की देर शाम राजधानी में लगातार दूसरे दिन 100 से ज्यादा लोगों के संक्रमित मिलने की जानकारी मिली है। स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि पिछले एक दिन में 125 लोग संक्रमित मिले हैं। जोकि बीते जून माह के बाद सबसे अधिक मामले हैं। पिछले दो दिन में ही देखें तो दिल्ली में 227 लोग कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं। 

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार पिछले एक दिन में 63,313 सैंपल की जांच की गई थी जिनमें 0.20 फीसदी सैंपल कोरोना संक्रमित मिले हैं। इस दौरान 58 मरीजों को छुट्टी दी गई है। फिलहाल राजधानी में एक बार फिर से सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 600 पार हो चुकी है। कुल सक्रिय मामले 624 में से 289 मरीज अपने अपने घरों में आइसोलेशन में हैं। जबकि 210 मरीजों का इलाज अस्पतालों में चल रहा है। इनके अलावा कंटेनमेंट जोन की संख्या भी बढ़कर 184 हो चुकी है। 

फिलहाल दिल्ली में कुल संक्रमण के मामले बढ़कर 14,42,515 हुए हैं जिनमें से 14,16,789 मरीज ठीक हुए हैं लेकिन 25,102 मरीजों की मौत हो चुकी है। पिछले एक दिन में 1.17 लाख लोगों ने वैक्सीन लिया है। अब तक 1.03 करोड़ लोग दोनों खुराक लेकर टीकाकरण पूरा कर चुके हैं। 

तीन लोग विदेश से संक्रमित नहीं हुए

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि ओमिक्रॉन के अब तक जितने भी मामले सामने आए हैं उनमें तीन लोग ऐसे हैं जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है। यह लोग विदेश यात्रा पर नहीं गए थे। दिल्ली में ही किसी परिचित के संपर्क में आने के बाद यह कोरोना संक्रमित हुए और फिर इनमें ओमिक्रॉन संक्रमण की पुष्टि हुई। अब तक राजधानी में 17 ओमिक्रॉन संक्रमित मरीजों को छुट्टी भी दी जा चुकी है। हालांकि यह सभी अपने अपने घरों में क्वारंटीन हैं और चिकित्सीय निगरानी में भी चल रहे हैं। 

दिल्ली में शुरू हुई प्रत्येक सैंपल की सीक्वेंसिंग

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि बुधवार से राजधानी में प्रत्येक कोरोना संक्रमित सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग शुरू हो चुकी है। केंद्र और दिल्ली सरकार की चार लैब में करीब 400 से 500 सैंपल की एकसाथ जांच करने की क्षमता है और इसका इस्तेमाल किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि रोजाना 100 से 125 सैंपल संक्रमित मिल रहे हैं जिन्हें जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा जा रहा है। दिल्ली सरकार के लोकनायक और आईएलबीएस अस्पताल में यह सुविधा है। जबकि केंद्र सरकार की एनसीडीसी सहित दो लैब इस कार्य में जुटी हुई हैं। 

Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | – Amar Ujala

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here