Breaking News
DreamHost

Kerala Gold Smuggling Case में एनआईए का बड़ा खुलासा, दाऊद इब्राहिम से जुड़े हैं तार

कोच्चि। केरल के हाई-प्रोफाइल सोना तस्करी मामले की जांच में जुटी नेशनल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) ने एक बड़ा खुलासा किया है। एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में एनआईए ने इस मामले के एक आरोपी और देश के मोस्ट वांटेड अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम कासकर और उसके गिरोह डी-कंपनी के बीच संबंध का पता लगाया है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को जांच के दौरान इस बात की जानकारी मिली कि सोना तस्करी मामले के एक आरोपी ने तंजानिया का भी दौरा किया गया था। तंजानिया में वर्ष 1993 के मुंबई धमाकों के अभियुक्त दाऊद इब्राहिम का काफी तगड़ा नेटवर्क है। यहां पर तस्करी मामले का ये आरोपी हीरे के कारोबार के साथ शस्त्रों की तस्करी करने की फिराक में था।

एनआईए ने बुधवार को ये खुलासा किया एक विशेष एनआईए अदालत में किया। एनआईए के एक अधिकारी ने बताया कि कई बार पर केटी रमीज और एम शराफुद्दीन ने तंजानिया का दौरा किया। इस दौरान दोनों ने दाऊद इब्राहिम के करीबी गुर्गे फिरोज ‘ओएसिस’ के साथ भी मुलाकात की। आरोप है कि दोनों ने फिरोज से देश में हथियारों की तस्करी के तरीकों पर चर्चा की।

अधिकारी ने आगे बताया कि रमीज ने वर्ष 2016 में तंजानिया का दौरा किया था और इसके पीछे उसका मकसद हीरा कारोबार शुरू करना था। इसके बाद 2017 में रमीज ने तंजानिया से संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) तक एक किलो सोने की तस्करी भी की थी।

एनआईए अधिकारी के मुताबिक नवंबर 2019 में दुबई से लौटते समय कोझिकोड हवाई अड्डे पर रमीज को 13 तस्करों के साथ पकड़ा गया था। रमीज पर आरोप लगाया गया था कि वह पलक्कड़ राइफल क्लब के लिए बंदूकें लेकर आया था, हालांकि राइफल क्लब द्वारा इन आरोपों से सिरे से इनकार कर दिया गया था।

वहीं, एनआईए के दूसरे अधिकारी ने बताया कि अब रमीज के बारे में वे और जानकारी जुटा रहे हैं। इसके पीछे की वजह यह है कि रमीज का कनेक्शन सोने की तस्करी के साथ-साथ हथियारों की तस्करी से भी है।

nia_starts_investigation_in_kerala_gold_smuggling_case.jpg

गौरतलब है कि केरल में बड़े पैमाने पर सोने की तस्करी के मामले का पहली बार उस वक्त खुलासा हुआ था, जब 5 जुलाई को यूएई वाणिज्य दूतावास के एक पूर्व कर्मचारी पीएस सरिथ को सीमा शुल्क विभाग ने गिरफ्तार किया था। दुबई से तिरुवनंतपुरम के लिए राजनयिक सामान में सरिथ 30 किलोग्राम सोने की तस्करी करने की कोशिश कर रहा था।

अब तक इस केस में 30 लोगों की गिरफ्तारी की जा चुकी है और एनआईए के अलावा, ईडी, डीआरआई, कस्टम और आयकर विभाग भी इसका जांच का हिस्सा हैं।







Patrika : India's Leading Hindi News Portal

Free WhoisGuard with Every Domain Purchase at Namecheap

About rnewsworld

Check Also

भारत सरकार ने Hizbul chief Salahuddin समेत 18 को आतंकी घोषित किया

नई दिल्ली। भारत सरकार ने मंगलवार को गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) 1967 के तहत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bulletproof your Domain for $4.88 a year!