IPO की तैयारी: भारत FIH 5000 करोड़ जुटाएगी, स्नैपडील 1250 करोड़ के लिए बाजार में उतरेगी

0
67

मुंबई5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

दो कंपनियों ने IPO के लिए सेबी के पास मसौदा जमा किया है। इसमें भारत FIH 5,000 करोड़ रुपए जुटाएगी, जबकि स्नैपडील 1,250 करोड़ रुपए के लिए बाजार में उतरेगी।

FIH मोबाइल की भारतीय यूनिट है भारत FIH

भारत FIH हॉन्गकॉन्ग में लिस्टेड FIH मोबाइल की भारतीय यूनिट है। यह कंपनी एपल की सप्लायर है जो फॉक्सकॉन की है। इसका शेयर हॉन्गकॉन्ग में बुधवार को 6.7% बढ़त के साथ कारोबार कर रहा था। भारत FIH नए शेयर के जरिए 25 अरब रुपए जुटाएगी जबकि ऑफर फॉर सेल (OFS) के जरिए 25 अरब जुटाएगी।

मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है भारत FIH

भारत FIH इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग सेवा देने वाली कंपनी है। वित्तवर्ष 2021 में इसका मार्केट रेवेन्यू शेयर 15% था। भारत FIH ने IPO का पेपर ऐसे समय में फाइल किया है जब इसकी चेन्नई में फैक्टरी एक हफ्ते के लिए बंद है। यह फूड पॉइजनिंग के कारण बंद है। इश्यू के लिए इसके मर्चेंट बैंकर्स सिटीग्रुप, BNP पारिबास और HSBC सिक्योरिटीज है।

स्नैपडील ने भी फाइल किया पेपर

उधर स्नैपडील ने भी 1,250 करोड़ रुपए के पेपर फाइल किया है। कंपनी यह रकम नए शेयर और ऑफर फॉर सेल (OFS) के जरिए जुटाएगी। हालांकि स्नैपडील के संस्थापक कुनाल बहल और रोहित बंसल कोई शेयर नहीं बेचेंगे। इसके 71 शेयरझारकों में से सॉफ्टबैंक, फॉक्सकॉन, मेडिसन इंडिया, सिकोइया कैपिटल जैसे हिस्सेदार अपनी हिस्सेदारी बेचेंगे।

900 करोड़ ऑर्गेनिक ग्रोथ पर होगा खर्च

कंपनी जुटाई गई रकम में से 900 करोड़ रुपए ऑर्गेनिक ग्रोथ के लिए खर्च करेगी। वित्तवर्ष 2021 में कंपनी का रेवेन्यू 471 करोड़ रुपए जबकि इसका घाटा 125 करोड़ रुपए था। नवंबर में सेबी के पास कुल 8 कंपनियों ने IPO के लिए मसौदा जमा कराया जबकि दिसंबर में 7 कंपनियों ने पेपर फाइल किया है। अक्टूबर में भी 8 कंपनियों ने पेपर जमा कराया था।

दिसंबर में कुल 11 कंपनियों ने IPO लाया जबकि नवंबर में 9 कंपनियों ने बाजार से रकम जुटाई है। हालांकि हाल में लिस्ट होने वाली नई कंपनियों का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है। बुधवार को मेट्रो की लिस्टिंग ने निवेशकों को निराश किया।

खबरें और भी हैं…

बिजनेस | दैनिक भास्कर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here