Monday, November 29, 2021
HomeTop StoriesConstitution Day: पीएम मोदी बोले- संविधान के लिए समर्पित सरकार विकास में...

Constitution Day: पीएम मोदी बोले- संविधान के लिए समर्पित सरकार विकास में भेद नहीं करती, हमने यह करके दिखाया

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Published by: Amit Mandal
Updated Fri, 26 Nov 2021 06:58 PM IST

सार

पीएम मोदी ने कहा कि हजारों साल की भारत की महान परंपरा को संजोए हुए हमारे संविधान निर्माताओं ने हमें संविधान दिया है।

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

संविधान दिवस 2021 पर दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे संविधान निर्माताओं ने हमें भारत की महान पंरपरा से संजोया हुआ संविधान दिया है। उन्होंने कहा कि आजादी के लिए जीने-मरने वाले लोगों ने जो सपने देखे थे, उन सपनों के प्रकाश में और हजारों साल की भारत की महान परंपरा को संजोए हुए हमारे संविधान निर्माताओं ने हमें संविधान दिया। इसके साथ ही उन्होंने गरीबों के लिए चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं का भी जिक्र किया। 

80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज
उन्होंने कहा कि कोरोना काल में पिछले कई महीनों से 80 करोड़ से अधिक लोगों को मुफ्त अनाज सुनिश्चचित किया जा रहा है। पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना पर सरकार 2 लाख 60 हजार करोड़ रुपये से अधिक खर्च करके गरीबों को मुफ्त अनाज दे रही है। अभी कल ही हमने इस योजना को अगले वर्ष मार्च तक के लिए बढ़ा दिया है।

उन्होंने कहा कि जब देश का सामान्य नागरिक, देश का गरीब विकास की मुख्यधारा से जुड़ता है, जब उसे समान मौके मिलते हैं, तो उसकी दुनिया पूरी तरह बदल जाती है। जब रेहड़ी, पटरी वाला भी बैंक क्रेडिट की व्यवस्था से जुड़ता है, तो उसे राष्ट्र निर्माण में भागीदारी का एहसास होता है।

हमारी सरकार विकास में भेद नहीं करती
उन्होंने कहा कि सबका साथ-सबका विकास, सबका विश्वास-सबका प्रयास, ये संविधान की भावना का सबसे सशक्त प्रकटीकरण है। संविधान के लिए समर्पित सरकार विकास में भेद नहीं करती और ये हमने करके दिखाया है।

उन्होंने कहा कि लैंगिक समानता की बात करें तो अब पुरुषों की तुलना में बेटियों की संख्या बढ़ रही है। गर्भवती महिलाओं को अस्पताल में डिलिवरी के ज्यादा अवसर उपलब्ध हो रहे हैं। इस वजह से माता मृत्यु दर, शिशु मृत्यु दर कम हो रही है।

विस्तार

संविधान दिवस 2021 पर दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि हमारे संविधान निर्माताओं ने हमें भारत की महान पंरपरा से संजोया हुआ संविधान दिया है। उन्होंने कहा कि आजादी के लिए जीने-मरने वाले लोगों ने जो सपने देखे थे, उन सपनों के प्रकाश में और हजारों साल की भारत की महान परंपरा को संजोए हुए हमारे संविधान निर्माताओं ने हमें संविधान दिया। इसके साथ ही उन्होंने गरीबों के लिए चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं का भी जिक्र किया। 

80 करोड़ लोगों को मुफ्त अनाज

उन्होंने कहा कि कोरोना काल में पिछले कई महीनों से 80 करोड़ से अधिक लोगों को मुफ्त अनाज सुनिश्चचित किया जा रहा है। पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना पर सरकार 2 लाख 60 हजार करोड़ रुपये से अधिक खर्च करके गरीबों को मुफ्त अनाज दे रही है। अभी कल ही हमने इस योजना को अगले वर्ष मार्च तक के लिए बढ़ा दिया है।

उन्होंने कहा कि जब देश का सामान्य नागरिक, देश का गरीब विकास की मुख्यधारा से जुड़ता है, जब उसे समान मौके मिलते हैं, तो उसकी दुनिया पूरी तरह बदल जाती है। जब रेहड़ी, पटरी वाला भी बैंक क्रेडिट की व्यवस्था से जुड़ता है, तो उसे राष्ट्र निर्माण में भागीदारी का एहसास होता है।

हमारी सरकार विकास में भेद नहीं करती

उन्होंने कहा कि सबका साथ-सबका विकास, सबका विश्वास-सबका प्रयास, ये संविधान की भावना का सबसे सशक्त प्रकटीकरण है। संविधान के लिए समर्पित सरकार विकास में भेद नहीं करती और ये हमने करके दिखाया है।

उन्होंने कहा कि लैंगिक समानता की बात करें तो अब पुरुषों की तुलना में बेटियों की संख्या बढ़ रही है। गर्भवती महिलाओं को अस्पताल में डिलिवरी के ज्यादा अवसर उपलब्ध हो रहे हैं। इस वजह से माता मृत्यु दर, शिशु मृत्यु दर कम हो रही है।

Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | – Amar Ujala

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments