हमीरपुर में बारिश से किसान परेशान: किसान बोले- सिर्फ गेहूं को फायदा, बाकी मटर और चना की 40 फीसदी फसल बर्बाद

0
32

हमीरपुर29 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

खेतों में पानी भरने से किसानों को बढ़ीं समस्याएं।

हमीरपुर में दो दिनों से चल रही बारिश ने किसानों की दिक्कतों को बढ़ा दिया है। बेमौसम बरसात ने फसल को नुकसान पहुंचाया है। किसानों का कहना है कि खेतों में पानी भर गया है।
बेमौसम बरसात से बर्बाद हुईं फसल
गौरतलब है कि बुंदेलखंड का हमीरपुर जिला कृषि आधारित है। वहीं, बेमौसम बरसात ने किसानों की चिंताएं और बढ़ा दी हैं। किसान ब्रजेंद्र कुमार गौतम कहते हैं कि लगातार बारिश से फसल का बहुत नुकसान हो रहा है। हालत यह है कि मटर, चना और मसूर की फसल को सबसे ज्यादा नुकसान हो गया है। पिछली बरसात में तिल की फसल खराब हो गई थी। उस नुकसान से अभी उबरे भी नहीं थे, अब इस बरसात से फसलें सड़ रही हैं।

किसानों ने बताया कि फसलों को बारिश से हो गया नुकसान।

किसानों ने बताया कि फसलों को बारिश से हो गया नुकसान।

किसानों की बढ़ीं चिंताएं
वहीं, किसान उत्तम सिंह ने कहा कि इस बरसात से सिर्फ गेंहू की फसल को फायदा है। बाकी चना, मसूर और सरसों को सबसे ज्यादा नुकसान है। इसलिए हम लोगों की चिंताएं बढ़ गई हैं। बारिश के कारण फसल गिर गई है। अब उसका उठना नामुमकिन है। बारिश ने दिक्कतों का बढ़ा दिया है।
40 फीसदी फसल हो गई बर्बाद
किसान किशोरी लाल ने बताया कि बरसात के कारण खेत में पानी भर गया है। सरसों, मटर, मसूर की फसल को बड़ी तादाद में क्षति पहुंची है। महज गेहूं की फसल को फायदा होगा। बाकी, सरसों, मसूर आदि की 40 फीसदी फसल बर्बाद हो गई है।

खबरें और भी हैं…

उत्तरप्रदेश | दैनिक भास्कर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here