सोशल मीडिया का अनसोशल यूज: जेवर दुकान से चुराए गए 62 लाख के गहने बरामद, 5 गिरफ्तार, यूट्यूब पर वीडियो देखकर की थी चोरी

0
12

रांची18 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

गिरोह के सरगना रितेश के घर से बरामद गहने।

  • न्यू साेनी ज्वेलर्स से चोरी का मामला, टेक्निकल सेल की मदद से हुई गिरफ्तारी
  • वीडियो देखकर योजना बनाई, उपकरण जुटाए, फिर दोस्तों संग मिलकर की चोरी

पुलिस ने शुक्रवार को 5 चोरों को गिरफ्तार कर डाेरंडा के काली मंदिर राेड स्थित न्यू साेनी ज्वेलर्स से 62 लाख के गहने चुरानेवाले गिराेह का भंडाफाेड़ किया। एसएसपी सुरेंद्र झा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि गिरफ्तार चोरों में गिराेह का सरगना रितेश वर्मा उर्फ लालू उर्फ राम सिंह उर्फ देवराज भी शामिल है। वह बरियातू के डॉक्टर्स कॉलोनी का रहनेवाला है। जबकि, अनूप ठाकुर, माे. साहिल अंसारी उर्फ शुभम गुप्ता, माे. अफराेज अंसारी और माे. अरमान अंसारी उर्फ माेदी डाेरंडा के रहनेवाले हैं।

उन्होंने बताया कि रितेश ने यूट्यूब पर वीडियाे देखकर जेवर दुकान का शटर गैस कटर से काटकर चाेरी करने की योजना बनाई थी। वीडियाे में दिखाए गए ऑक्सिजन-रसोई गैस सिलेंडर, गैस कटर आदि भी उसी ने जुटाए थे। जेवर दुकान तक सारे उपकरण को ले जाने के लिए रितेश ने ही मालवाहक ऑटाे भी चुराया था। इसके बाद जब उसने अपनी योजना अपने दोस्तों से शेयर की तो वे भी उसका साथ को तैयार हो गए। फिर तय याेजना के तहत पांचों ने मिलकर 11 जनवरी की रात को गैस कटर से जेवर दुकान का शटर काटकर 62 लाख रुपए के गहने चुरा लिए। दुकान संचालक अमित वर्मन ने अगले दिन डाेरंडा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

चाेरी के गहनों को कोलकाता की एक मंडी में थी खपाने की तैयारी
चाेरी के गहनों को कोलकाता में खपाने की तैयारी थी। रितेश ने ही यूट्यूब के जरिए कोलकाता की उस मंडी के बारे में जानकारी जुटाई थी, जहां गहनों को बेचना था। एक-दो दिन में ये लोग गहने लेकर ट्रेन से कोलकाता जानेवाले थे। लेकिन, पुलिस ने टेक्निकल सेल की मदद से जब इन्हें गिरफ्तार किया, तो बरियातू के डॉक्टर काॅलाेनी स्थित रितेश के घर से सारे गहने भी बरामद हो गए।

एक दिन पहले पुलिसकर्मी से लूटी थी बाइक
गिरफ्तार अपराधियों ने ज्वेलरी दुकान में चाेरी करने से एक दिन पहले 10 जनवरी की रात 9:45 बजे डीबडीह बाईपास पर एसएसपी आवास के साइबर सेल में तैनात पुलिसकर्मी दीपक कुमार सिंह से उसकी बाइक लूट ली थी। पुलिस ने दीपक से लूटी गई बाइक भी चोरों के पास से बरामद कर ली है।

दो माह पहले जेल से छूटा था सरगना
रितेश का आपराधिक रिकॉर्ड है। वह आर्म्स एक्ट में जेल जा चुका है। दो माह पहले ही जेल से छूटा था। यूट्यूब पर वीडियो देखकर चाेरी करके सारा जेवर अपने घर में रखकर दाेस्ताें के बीच बंटवारा किया। अनूप का आपराधिक इतिहास रहा है। 3 साल पहले वह छिनतई में जेल गया था।

खबरें और भी हैं…

झारखंड | दैनिक भास्कर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here