Wednesday, December 8, 2021
HomeNationalविरोध से बौखलाए डिप्टी CM और ट्रांसपोर्ट मंत्री: प्रदर्शन को बताया ड्रामा;...

विरोध से बौखलाए डिप्टी CM और ट्रांसपोर्ट मंत्री: प्रदर्शन को बताया ड्रामा; तू-तड़ाक पर उतरे रंधावा और राजा वड़िंग; बोले – कर लो जो करना है

  • Hindi News
  • Local
  • Chandigarh
  • The Deputy CM And The Transport Minister Were Upset By The Protest, Called For Drama To Protest; Randhawa And Raja Warring Got Down On The Road, Said Do Whatever You Want To Do

चंडीगढ़28 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

प्रदर्शनकारियों से उलझते डिप्टी सीएम रंधावा और मंत्री राजा वड़िंग।

मुक्तसर में विरोध से चन्नी सरकार के डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा और ट्रांसपोर्ट मंत्री राजा वड़िंग बौखला गए। उन्होंने वाटर सप्लाई एवं सेनिटेशन के कच्चे कर्मचारियों के प्रदर्शन को ड्रामा करार दिया। मामला इतना गर्मा गया कि डिप्टी सीएम और मंत्री वड़िंग तू-तड़ाक पर उतर आए।

मंत्री राजा वड़िंग ने प्रदर्शनकारी को पूछा कि तू क्या कर लेगा? इसके बाद डिप्टी सीएम रंधावा भी भड़क उठे। वह भी प्रदर्शनकारी को कहने लगे कि कर ले जो करना है, तू मुझे डराएगा? इसके बाद पुलिस ने बीच बचाव किया। रंधावा मुक्तसर में शिकायत निवारण कमेटी की मीटिंग में हिस्सा लेने पहुंचे हुए थे।

डिप्टी सीएम की गाड़ी को घेरते प्रदर्शनकारी

डिप्टी सीएम की गाड़ी को घेरते प्रदर्शनकारी

ऐसे शुरू हुआ विरोध

डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा मुक्तसर पहुंचे तो वहां डीसी ऑफिस, NHM और वाटर सप्लाई एवं सेनिटेशन के कच्चे कर्मचारियों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया। सेनिटेशन के कुछ कर्मचारी डिप्टी सीएम रंधावा की गाड़ी के आगे आ गए। इसके बाद माहौल गर्मा गया। रंधावा ने गाड़ी रोकी और मंत्री वड़िंग के साथ नीचे उतर आए। इसके बाद वह प्रदर्शनकारियों से उलझ गए।

रंधावा बोले- ड्यूटी पर तैनात सब पुलिस वाले सस्पेंड करो

प्रदर्शनकारियों से उलझने के बाद डिप्टी सीएम रंधावा तैश में आ गए। उन्होंने डिप्टी कमिश्नर को कहा कि जो भी पुलिस कर्मचारी यहां ड्यूटी पर हैं, उन सबको सस्पेंड कर दो। रंधावा के पास पंजाब में गृह मंत्रालय भी है।

कड़े सुरक्षा घेरे में डिप्टी सीएम की गाड़ी आगे गई

कड़े सुरक्षा घेरे में डिप्टी सीएम की गाड़ी आगे गई

वड़िंग की सफाई, कोई हादसा हो सकता था

मंत्री राजा वड़िंग ने कहा कि पंजाब के लोग हैं। उनकी मांगे हैं, लेकिन उनका तरीका ठीक नहीं था। कोई हादसा हो सकता है। मैंने उन्हें कहा कि सीएम और डिप्टी सीएम से मिलवा देते हैं। कच्चे कर्मचारी हमारे परिवार से हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह के वक्त राहत मिल जाती तो फिर यह पक्के होने थे।

खबरें और भी हैं…

देश | दैनिक भास्कर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments