Monday, November 29, 2021
HomeNationalलखनऊ DG कांफ्रेंस में मोदी: गृहमंत्री शाह और NSA डोभाल भी हैं...

लखनऊ DG कांफ्रेंस में मोदी: गृहमंत्री शाह और NSA डोभाल भी हैं साथ; ‘साइबर क्राइम’ और ‘नक्सलवाद’ पर हुआ प्रेजेंटेशन

लखनऊ5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

PM नरेंद्र मोदी ने लखनऊ में चल रही अखिल भारतीय डीजी कॉन्फ्रेंस में पुलिस अधिकारियों को संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि पुलिस अफसर देश के भीतर उभर रही सुरक्षा चुनौतियों के लिए तैयार रहें। प्रधानमंत्री के संबोधन के बाद अलग-अलग राज्यों के डीजीपी अपने प्रेजेंटेशन दिए। इसमें अलग-अलग मुद्दों पर चर्चा की गई। बैठक में गृह मंत्री अमित शाह और एनएसए चीफ अजीत डोभाल के साथ गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी भी मौजूद रहे।

इन चुनौतियों पर हो रही है चर्चा…

साइबर क्राइम के बढ़ते मामले-

देश में सबसे ज्यादा साइबर क्राइम यूपी में बढ़े हैं। ऐसे में यहां हर थाने में साइबर के लिए नोडल अधिकारी की नियुक्ति और साइबर सेल को तकनीकी रुप से बेहतर बनाने का प्रेजेंटेशन दिया गया है।

धर्मांतरण और घुसपैठ

उत्तरप्रदेश में धर्मांतरण के लिए विदेशों से आ रहे फंड और चुनाव से पहले बांग्लादेशी घुसपैठियों पर भी चर्चा हुई है। इसके लिए अलग-अलग राज्यों की पुलिस को इनपुट शेयर करने कहा गया है।

जम्मू कश्मीर में बढ़ती हिंसा

जम्मू कश्मीर में अन्य राज्यों के लोगों पर हो रहे हमले पर भी चिंता जाहिर की गई है। धारा 370 लागू होने के बाद के वहां के हालातों की समीक्षा हो रही है।

किसान आंदोलन से जुड़ी हिंसा

बैठक में देश भर में चल रहे किसान आंदोलन पर भी बात हो रही है। खासतौर पर लखीमपुर हिंसा के भड़कने को न भांप पाने की बात पर।

नक्सलवाद की चिंता

देश के अलग-अलग राज्यों में बढ़ती नक्सली हिंसा पर भी बात हो रही है। महाराष्ट्र,मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के रेड कॉरिडोर में पुलिस की कांबिंग गश्त की रणनीति तैयार हुई है। हिंसा के बाद नक्सली दूसरे राज्य की सीमा में शेल्टर लेते हैं। इसके लिए तीनों राज्यों की पुलिस का एक्शन प्लान बना है।

सभी प्रदेशों के DGP बेहतर पुलिसिंग और भविष्य की चुनौतियों पर प्रेजेंटेशन देंगे। दोपहर 12 बजे के बाद लंच ब्रेक होगा। इसके बाद फिर कॉन्फ्रेंस शुरू होगी। शाम 7 बजे प्रधानमंत्री राजभवन लौटेंगे।

21 नवंबर की शाम वापस जाएंगे PM
यूपी में पहली बार आयोजित हो रही तीन दिवसीय डीजी कॉन्फ्रेंस का आज दूसरा दिन है। शुक्रवार को गृहमंत्री अमित शाह ने इसका शुभारंभ किया है। शुक्रवार रात ही प्रधानमंत्री भी लखनऊ पहुंच गए हैं। यह पहला मौका है जब प्रधानमंत्री इतना लंबा समय यूपी में बिता रहे हैं। वह शुक्रवार रात 9 बजे से लखनऊ में हैं। रविवार को वह कॉन्फ्रेंस में आखिरी संबोधन देने के बाद शाम 4 बजे वापस दिल्ली लौटेंगे।

बता दें कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने लखनऊ में 56वें पुलिस महानिदेशक, महानिरीक्षक सम्मेलन (DG-IG कॉन्फ्रेंस) का शुक्रवार को उद्घाटन किया था। उन्होंने केंद्रीय एजेंसियों और राज्यों के बीच बेहतर तालमेल को आज की जरूरत बताया। साइबर क्राइम, नारकोटिक्स, उग्रवाद, तटीय सुरक्षा और सीमा प्रबंधन जैसे सुरक्षा संबंधित मामलों पर अधिकारियों के साथ चर्चा की।

कश्मीर में 2 साल में 13 हजार करोड़ का निवेश

गृहमंत्री शाह के स्वागत के लिए डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, वित्त मंत्री सुरेश खन्ना, कानून मंत्री बृजेश पाठक पहुंचे।

गृहमंत्री शाह के स्वागत के लिए डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, वित्त मंत्री सुरेश खन्ना, कानून मंत्री बृजेश पाठक पहुंचे।

देश की कानून व्यवस्था पर गृह मंत्री अमित शाह बोले। हमको जम्मू और कश्मीर में धारा 370 हटने के बाद अमूलचूल बदलाव हुए। वहां पिछले 2 साल में देश के विभिन्न हिस्सों से भूमि लिए 800 आवेदन आए हैं। करीब 13 हजार करोड़ का निवेश भी हुआ है। यह एक पॉजिटिव बदलाव है। अब कानून व्यवस्था मजबूत है। इसलिए वहां टूरिज्म भी बढ़ा है।

जेल को सुधार गृह बनाओ न कि राजनीति का अड्डा
गृहमंत्री ने सभी DG को कानून व्यवस्था में सुधार लाने के सुझाव दिए। अपराध पर रोक के लिए जेल को सुधार गृह बनाने की नसीहत दी। उन्होंने कहा कि जेल सुधार गृह की तौर पर विकसित हों। न कि राजनीति और अपराधियों का अड्डा बनें। जिससे अपराधी जेल जाने के डर से अपराध या शहर छोड़ दें।

खबरें और भी हैं…

देश | दैनिक भास्कर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments