Monday, November 29, 2021
HomeStatesHaryanaरेवाड़ी में 2 दुकानें जलकर खाक: शार्ट सर्किट से 50 लाख का...

रेवाड़ी में 2 दुकानें जलकर खाक: शार्ट सर्किट से 50 लाख का नुकसान; 7 गाड़ियों ने 4 घंटे की मशक्कत के बाद पाया आग पर काबू

रेवाड़ी11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कोसली में दुकान में लगी हुई भीषण आग।

रेवाड़ी जिले के कोसली कस्बा में रविवार की देर रात क्रॉकरी की दो दुकानों में भीषण आग लग गई। दोनों दुकानें साथ-साथ बनी हुई थीं। 4 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद दमकल की 7 गाड़ियों ने आग पर काबू पाया। दोनों व्यापारियों को करीब 50 लाख रुपए का नुकसान हुआ है। दूसरी तरफ व्यापारियों ने समय पर दमकल की गाड़ियां नहीं पहुंचने की वजह से आग भड़कने का आरोप लगाया।

मिली जानकारी के अनुसार, कोसली स्टेशन के निकट लाला रामरत्न गर्ग धर्मशाला के पास केके व बालाजी नाम से क्रॉकरी की दो दुकानें साथ-साथ बनी हुई हैं। रविवार की रात करीब 8 बजे एक दुकान में शार्ट सर्किट की वजह से आग लग गई। दुकान से आग का धुआं निकलता देख लोगों ने दमकल विभाग को सूचना दी। इतना दमकल विभाग पहुंचा, आग ने दूसरी दुकान को भी चपेट में ले लिया था।

आग पर काबू पाते दमकल कर्मचारी।

आग पर काबू पाते दमकल कर्मचारी।

दमकल विभाग की एक गाड़ी आग बुझाने के लिए मौके पर पहुंची, लेकिन आग इतनी भीषण थी कि रेवाड़ी दमकल विभाग को सूचित किया गया। रेवाड़ी से कोसली की दूसरी 30 किलोमीटर से ज्यादा है, जिसकी वजह से मौके पर दमकल की दूसरी गाड़ी पहुंचने में आधा घंटे से ज्यादा समय लगा। धीरे-धीरे 7 गाड़ियां आग बुझाने के लिए मौके पर पहुंची। करीब 4 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर तो काबू पा लिया गया, लेकिन दोनों ही दुकानों में रखा 50 लाख रुपए का माल पूरी तरह स्वाह हो गया।

सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची। वहीं व्यापारियों ने आगजनी की घटना पर रोष व्यक्त किया। व्यापारियों का कहना है कि इतना बड़ा क्षेत्र होने के बावजूद कोसली में दमकल की गाड़ियों की पर्याप्त व्यवस्था नहीं है। अगर कोसली में दमकल की गाड़ियां होतीं तो इस आगजनी से हुए नुकसान को कम किया जा सकता है, क्योंकि रेवाड़ी से दमकल की गाड़ी पहुंचने में काफी देरी हुई और उसकी वजह से आग भड़कती चली गई।

खबरें और भी हैं…

हरियाणा | दैनिक भास्कर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments