Monday, November 29, 2021
HomeStatesUttar Pradeshमौत से पहले आंचल ने जताई थी हत्या की आशंका: नोट-बुक में...

मौत से पहले आंचल ने जताई थी हत्या की आशंका: नोट-बुक में लिखा… हर रात सूर्यांश बाहर बिताता है, उसकी मां मुझे हर वक्त गालियां देती है, मुझे घर से बाहर जाने पर भी पाबंदी

कानपुर11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

मौत से पहले अंजली ने पति, सास समेत अन्य ससुरालियों पर जताई थी हत्या की आशंका।

अशोक नगर निवासी मसाला कारोबारी की पत्नी आंचल की मौत के मामले में नजीराबाद पुलिस को जांच के दौरान कमरे से एक उनकी राइटिंग में लिखा नोट मिला है। इसमें आंचल ने उसे किस तरह से प्रताड़ित किया जा रहा बयां किया है। इसी को आधार बनाकर पुलिस ने एफआईआर दर्ज करके जांच शुरू की है।

पांच प्वाइंट में आंचल ने लिखी थी ससुरालियों के प्रताड़ना की दास्तां।

पांच प्वाइंट में आंचल ने लिखी थी ससुरालियों के प्रताड़ना की दास्तां।

पांच बिंदुओं पर आंचल ने लिखी प्रताड़ना की दास्तां
अशोक नगर निवासी मसाला कारोबारी सूर्यांश की पत्नी आंचल ने मौत से पहले ही हत्या की आशंका जताई थी। जांच के दौरान आंचल के कमरे से एक नोट बुक बरामद हुई है। उसमें आंचल ने पांच बिंदुओं में ससुराल में होने वाली प्रताड़नाओं का जिक्र किया है। आंचल ने लिखा है कि….मुझे किसी भी तरह के खर्च करने पर पूरी तरह से रोक है…मुझे घर से बाहर जाने पर पूरी तरह प्रतिबंध है…, अगर मैं बाहर जाने का साहस करती हूं तो तो मुझे जाने नहीं दिया जाता…। उसकी मां मुझे हर वक्त गालियां देती है। हर रात सूर्यांश वह घर से बाहर बिताता है…। एसीपी नजीराबाद ने बताया कि यह कोई सुसाइड नोट नहीं है, लेकिन मौत से पहले ही आंचल ने अपने ससुरालियों पर हत्या की आशंका जताते हुए एक कॉपी में यह बातें लिखी थी। आरोपियों को सजा दिलाने के लिए यह नोट मजबूत साक्ष्य है। इसकी हैंड राइटिंग मिलान के लिए फोरेंसिक लैब भेजा गया है।

सूर्यांश और आंचल की इंगेजमेंट की तस्वीर। (फाइल फोटो)

सूर्यांश और आंचल की इंगेजमेंट की तस्वीर। (फाइल फोटो)

मुझे बहुत टॉर्चर किया जा रहा है…
आंचल ने मौत से पहले लिखा है उन्हें पति सूर्यांश, सास निशा, फूफा भरत ग्रोवर उर्फ काकू, बुआ मीनाक्षी, बुआ अन्नू खुल्लर, बहनोई पुनीत कोटवानी, ननद निकिता कोटवानी और तान्या ग्रोवर मुझे बहुत टॉर्चर कर रहे हैं। अगर मुझे कुछ होता है तो इसके जिम्मेदार पति और सास के साथ यह सभी लोग हैं।

मेरी बेटी पूजा-पाठ और व्रत करने वाली थी, उसकी रातें क्लबों में होती थी रंगीन
मेरी बेटी पूजा-पाठ और व्रत रखने वाली थी। जबकि सूर्यांश की हर रात क्लबों में रंगली होती थी। शराब पीने से लेकर स्मैक-चरस और सिगरेट उसका शौक था। शादी के बाद पता चला कि सूर्यांश बड़े घर का बिगड़ैल लड़का है। उसे कई बार आंचल के साथ ही हम लोगों ने भी समझाने का प्रयास किया था, लेकिन उसने एक नहीं सुनी। बल्कि समझाने पर और अधिक प्रताड़ित करने लगा था।
वीडियो इकतरफा है…
आंचल के मायके वालों ने आरोप लगाया है कि जो वीडियो मेरी बेटी के हत्यारोपी पति सूर्यांश ने पुलिस को सौंपा है वह सभी इकतरफा हैं। बेटी को बंधक बनाकर रखते थे, उसे इतना टॉर्चर कर दिया था कि वह अवसाद में जा रही थी। अपने बचाव में दिए गए सभी सीसीटीवी फुटेज अपने हिसाब से काट कर दिए गए हैं।

खबरें और भी हैं…

उत्तरप्रदेश | दैनिक भास्कर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments