भाजपा नेता पहुंचे पीड़िता के घर: बोले- पहले एसपी व डॉक्टरों ने गैंगरेप बताया, अब मना कर रहे; सरकार मामले को दबा रही

0
18

  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Said Earlier The SP And Doctors Told Gang Rape, Now They Are Clearly Refusing To Be Raped There, The Government Is Suppressing The Matter

अलवर33 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

भाजपा की समिति के नेता।

अलवर में मूकबधिर नाबालिग के लहुलूहान हालत में मिलने गैंगरेप होने की घटना को पुलिस ने जांच के बाद खारिज कर दिया। इसके बाद भाजपा का रोष बढ़ गया है। शनिवार को भाजपा की ओर से बनाई गई विशेष समिति अलवर पहुंची। पहले पीड़िता के घर पहुंचे।वहां परिवार से कहा कि पूरी पार्टी उनके साथ हैं। कहीं भी अन्याय हुआ तो आर-पार की लड़ाई लड़ी जाएगी। इसके बाद पुलिस के आला अधिकारियों से मुलाकात की ।
रामलाल शर्मा ने कहा सरकार दबाना चाह रही मामला
भाजपा विधायक रामलाल शर्मा ने कहा कि सरकार मामले को दबाना चाहती है। उनके कहने पर सब खेल होने हुआ है। घटना के बाद अलवर पुलिस के अधिकारियों ने पीड़िता के परिजनों को बुलाकर गैंगरेप की बात कही थी। उस समय पीड़िता की जांच पड़ताल करने वाले डॉक्टरों ने भी यही कहा था कि सेक्सुअल हरासमेंट हुआ है।
मीडिया से बातचीत में भाजपा पदाधिकारियों ने प्रदेश सरकार व मुख्यमंत्री पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के इशारे पर यह पूरा खेल हुआ है। भाजपा ने आगामी 18 जनवरी तक सड़क पर विरोध प्रदर्शन करने की योजना तैयार कर ली है। जब तक पीड़िता को न्याय नहीं मिलेगा, भाजपा विरोध प्रदर्शन करती रहेगी।
सीबीआई जांच की मांग
अब मामले की निष्पक्ष जांच के लिए अलवर कलेक्टर व एसपी को हटाने की मांग भी जोर पकड़ चुकी है। इसके अलावा सीबीआई जाांच जरूरी है। तभी बालिका व उसके परिवार को न्याय मिल पाएगा।
सांसद ने पीड़िता से की मुलाकात
शनिवार को सांसद बाबा बालक नाथ भी पीड़िता के परिवार से मिलने पहुंचे। उन्होंने प्रदेश सरकार पर हमला बोला। कहा कि अलवर प्रशासन केवल सरकार और प्रियंका गांधी को बचाने में लगा है। सरकार देश में बदनाम हो चुकी है। खुद पुलिस के आला अधिकारियों ने दुष्कर्म और गैंगरेप की बात कही थी। आज सभी लोग इस पूरी घटना को हादसे बतानेलग गए। सांसद ने कहा कि पीड़िता और उसके भाई बहन की शादी तक की जिम्मेदारी उनकी है। यह बच्चे डॉक्टर, इंजीनियर या किसी अन्य कोर्स की पढ़ाई करेंगे। उनकी पूरी पढ़ाई व लालन-पालन का खर्चा उठाएंगे।

खबरें और भी हैं…

राजस्थान | दैनिक भास्कर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here