Sunday, December 5, 2021
HomeStatesBiharभाजपा नेता नीलेश राय के ठिकाने पर छापेमारी: कोल्ड ड्रिंक्स गाेदाम से...

भाजपा नेता नीलेश राय के ठिकाने पर छापेमारी: कोल्ड ड्रिंक्स गाेदाम से चल रहा था शराब का धंधा, छापे में 7 गिरफ्तार, मुखिया फरार

पटना3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

दीघा के पॉलसन रोड में गोदाम सील केस दर्ज, मैनेजर और निजी बाॅडीगार्ड भी पकड़ाया।

  • डिप्टी मेयर प्रत्याशी रहीं सुचित्रा के पति के गोदाम में चल रही थी शराब पार्टी, पुलिस पहुंची

दीघा के पाेल्सन राेड स्थित भाजपा नेता नीलेश राय उर्फ नीलेश मुखिया के काेका काेला एजेंसी के गाेदाम में बुधवार रात शराब पार्टी चल रही थी। नीलेश समेत कई लाेग वहां माैजूद थे। इसी दाैरान दीघा पुलिस ने छापेमारी कर दी। पुलिस ने गाेदाम में जाम छलका रहे नीलेश के मैनेजर पंकज कुमार, निजी बाॅडीगार्ड गुरमुख सिंह, स्टाफ माे. वारिस, दिलीप राय, अखिलेश कुमार, नीरज कुमार और राेहित कुमार काे गिरफ्तार कर लिया। किसी ने नीलेश काे पुलिस के आने की सूचना दे दी, जिससे वह फरार हाे गया।

पुलिस ने गाेदाम से शराब की 16 बाेतलें, तीन खाली बोतलें, प्लास्टिक के 10 खाली ग्लास, 8 मोबाइल फाेन, 4 हैंड वाच और 1130 रुपए बरामद किए। नीलेश अपने इलाके का मुखिया रह चुका है। उसकी पत्नी सुचित्रा सिंह वार्ड 22 बी की काउंसलर हैं। हाल में सुचित्रा ने डिप्टी मेयर का चुनाव लड़ा था। पुलिस ने गाेदाम काे सील कर दिया है।

एजेंसी के को सील करती पुलिस। (इनसेट में) निलेश मुखिया।

एजेंसी के को सील करती पुलिस। (इनसेट में) निलेश मुखिया।

घर पर छापेमारी, फरार
निजी बाॅडीगार्ड गुरमुख पंजाब के गुरुदासपुर के बारा गांव का है। पटना में कुर्जी काेठिया, विकासनगर में केदार साव के मकान में किराया पर रहता है। नीरज कंकड़बाग, जबकि मैनेजर पंकज व अन्य चार दीघा के रहने वाले हैं। नीलेश और गिरफ्तार लाेगाें पर दीघा थाने में बिहार मद्य निषेध एवं उत्पाद अधिनियम 2018 की धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। नीलेश काे गिरफ्तार करने के लिए कुर्जी गेट नंबर 64 के पास स्थित घर में छापेमारी की गई, लेकिन वह फरार था।
राेजाना सजती थी शराब की महफिल

इस गाेदाम में राेजाना शराब की महफिल सजती थी। इसकी सूचना मिलने पर ट्रेनी डीएसपी प्रांजल और दीघा थानेदार राजेश कुमार सिन्हा वहां पहुंचे। वहां शराब की पार्टी चल रही थी। लाेगाें ने इधर-उधर भागने की काेशिश की, लेकिन गेट पर पुलिस तैनात थी। सबाें काे गिरफ्तार कर दीघा थाने लाया गया और ब्रेथ एनालइजर से जांच की गई जिसमें शराब पीने की पुष्टि हुई। पुलिस वहां से डीवीआर ले आई। पुलिस इससे यह देख रही है कि काैन-काैन लाेग गाेदाम में शराब पीने आते थे। गिरफ्तार लाेगाें के माेबाइल के सीडीआर काे भी पुलिस खंगालने में जुटी है।

सप्लाई के लिए रखा था डिलिवरी ब्वॉय​​​​​​​

​​​​​​​नीलेश ने काेका काेला का सीएनएफ लिया है। इस गाेदाम की आड़ में शराब का धंधा करता है। उसने हाेम डिलिवरी ब्वाॅय भी रखा था। विधि व्यवस्था डीएसपी संजय कुमार ने बताया कि जांच में यह बात सामने आई है कि नीलेश कोल्ड ड्रिंक एजेंसी के इस गाेदाम की आड़ में दूसरे राज्यों से शराब मंगवाता था। यहां से शराब की सप्लाई हाेती थी। दंडाधिकारी की माैजूदगी में पुलिस ने गाेदाम काे सील कर दिया। हाल के महीनाें में पटना में किसी परिसर से शराब बरामद हाेने में यह पहला गाेदाम है जिसे सील किया गया है।

विराेधी गुट ने जाल बिछाकर खाेल दी पाेल
चर्चा है कि एक माह पहले नीलेश ने पुलिस काे सूचना देकर अपने विराेधी गुट के एक व्यक्ति काे शराब पार्टी करते गिरफ्तार करवाया था। तब से ही विराेधी गुट नीलेश के पीछे लगा था। कहा जा रहा है कि विराेधी गुट का एक व्यक्ति कुछ दिनाें से नीलेश के साथ उठ-बैठ रहा था। उसी ने सूचना दी और पुलिस ने छापेमारी कर दी।

खबरें और भी हैं…

बिहार | दैनिक भास्कर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments