बलरामपुर में फिरोज पप्पू के घर पहुंचे बृज भूषण सिंह: कहा- आरोपियों को पाताल से खोज निकालेगी हमारी पुलिस, 4 जनवरी को गला रेतकर हुई थी हत्या

0
36

बलरामपुर5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

बलरामपुर में फिरोज पप्पू के घर पहुंचे बृज भूषण सिंह

बलरामपुर। यूपी के बलरामपुर में समाजवादी नेता एवं पूर्व तुलसीपुर नगर पंचायत अध्यक्ष की बीते 4 जनवरी को धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी गई थी। घटना के बाद से ही मृतक के परिजनों से समाजवादी नेताओं के मिलने का तांता लगा हुआ है, लेकिन आज भाजपा के कद्दावर नेता और कैसरगंज लोकसभा सीट से सांसद बृजभूषण शरण सिंह आपने उड़न खटोले से तुलसीपुर पहुंचे उन्होंने मृतक पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष फिरोज पप्पू के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें ढांढस बंधाया। सांसद ने मृतक के परिजनों से वादा करते हुए कहा कि फिरोज पप्पू का कार्य और व्यवहार बेहद ही सरल था जिस कारण आज मैं यहां खड़ा हूं और इनके कातिल कहीं भी छिपे बैठे हो। हमारी पुलिस उन्हें पाताल से भी ढूंढकर निकालेगी। उन दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने का काम मैं खुद करुंगा।

3 दिन बाद भी पुलिस के हाथ है खाली

जिले में बीते 4 जनवरी को समाजवादी नेता एवं तुलसीपुर के पूर्व नगर पंचायत अध्यक्ष फिरोज पप्पू की रात करीब 11:00 बजे उनके घर के करीब ही गला रेत कर हत्या कर दी गई थी। हत्या के आज 3 दिन बीतने के बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं। अपने नेता की हत्या का संज्ञान लेते हुए सपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल के निर्देश पर समाजवादी सरकार में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री रहे डॉ एसपी यादव की अगुवाई में 5 सदस्य प्रतिनिधिमंडल ने मृतक के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें हर संभव मदद का भरोसा दिया था साथ ही हत्यारों की जल्द गिरफ्तारी न होने पर प्रशासन को आंदोलन की चेतावनी भी दी थी।

बेटे को गले लगाकर दी सांत्वना

मृतक फिरोज पप्पू के घर समाजवादी नेताओं के हुजूम के बीच अचानक आज भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता एवं कैसरगंज लोकसभा सीट से सांसद बृजभूषण शरण सिंह पहुंच गए। सांसद बृजभूषण शरण सिंह ने मृतक फिरोज पप्पू के परिजनों से मुलाकात की। उन्होंने मृतक के पुत्र अदनान को गले लगा कर कहा कि आपके पिता एक नेक दिन और बहादुर इंसान थे, धोखे से उनका गला काटा गया है। उन्होंने कहा किसी भी दशा में हत्यारों को बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि व्यक्ति विशेष होता है पार्टी मायने नहीं रखती है। वह किसी भी दल में होते उनका कार्य और व्यवहार ऐसा था कि हर कोई उनके साथ हुई घटना पर आज दुखी है। जिसका ज्वलंत उदाहरण में स्वयं हूं और मैं खुद को रोक नहीं सका आज मैं स्वयं तुलसीपुर की धरती पर आपके घर पर खड़ा हूं। उन्होंने परिजनों से वादा करते हुए कहा की फिरोज पप्पू के हत्यारे पाताल में भी छिप जाएंगे तो हमारी पुलिस उन्हें ढूंढ कर निकाल लेगी और कड़ी से कड़ी सजा दिलाने का काम मैं खुद करूँगा।

खबरें और भी हैं…

उत्तरप्रदेश | दैनिक भास्कर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here