Breaking News
DreamHost

पिस्तौल लेकर बीडीपीओ दफ्तर पहुंचा सरपंच, बोला- प्रस्ताव पास करो नहीं तो खुद को गोली मार लूंगा

  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Sarpanch Reached BDPO Office With Bathinda Pistol Said Pass The Proposal Or Else I Will Shoot Myself

बठिंडाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

सिंबॉलिक इमेज।

  • बठिंडा के रामपुरा फूल की घटना, 5 दिन बाद बीडीपीओ की शिकायत पर पुलिस ने किया आरोपी सरपंच के खिलाफ केस दर्ज

बठिंडा के रामपुरा में बीडीपीओ के दफ्तर में मुलाजिमों के होश उस समय हड़ गए, जब एक सरपंच पिस्तौल लेकर दफ्तर में आ पहुंचा। हाथ में पिस्तौल लेकर पहले उसने सभी कमरों में चक्कर लगाए। इसी बीच बीडीपीओ को पिस्तौल दिखाते हुए धमकी दे डाली कि अगर प्रस्ताव पास न हुआ तो वह खुद को गोली मार लेगा।

किसी तरह अन्य स्टाफ मेंबरों ने उसे समझा बुझाकर वहां से भेज दिया। उधर, इस सारे मामले की शिकायत बीडीपीओ ने पुलिस को दी। घटना के कई दिन बाद मंगलवार को पुलिस ने केस दर्ज करके उसकी तलाश शुरू कर दी है।

पुलिस को दी शिकायत में ब्लॉक डेवलपमेंट एंड पंचायत अफसर ने बताया है कि 8 अक्टूबर को शाम करीब 4 बजे गांव बदियाला का सरपंच गुरप्रीत सिंह उनके कार्यालय में दाखिल हुआ। यहां आते ही उसने हंगामा शुरू कर दिया। उसके हाथ में पिस्तौल थी, जो सभी कमरों के चक्कर लगाने लगा।

इसके बाद सरपंच गुरप्रीत सिंह ने बीडीपीओ प्रदीप कुमार से तुरंत प्रस्ताव डालने की मांग करते हुए खुद की कनपटी पर पिस्तौल तान ली और धमकी देने लगा कि अगर प्रस्ताव पास न किया तो वह आत्महत्या कर लेगा। स्टाफ के मुलाजिमों ने किसी तरह मामले को शांत किया। उधर, सिटी रामपुरा पुलिस ने सरपंच गुरप्रीत सिंह के खिलाफ मामला दर्ज कर अगली कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

उधर सरपंच गुरप्रीत सिंह ने कहा कि गांव में गंदे पानी की समस्या और विकास कार्यों को लेकर दो सप्ताह से बीडीपीओ कार्यालय के चक्कर लगाने के बावजूद उनकी सुनवाई नहीं हो रही थी। कार्यालय के अधिकारियों के इस रवैये से परेशान होकर यह कदम उठाना पड़ा। उन्होंने कहा कि वोट लेने को उन्हें जनता की कचहरी में जाना ही पड़ेगा। अगर गांव के काम नहीं होंगे तो उन्हें वोट कौन देगा।


Dainik Bhaskar

Free WhoisGuard with Every Domain Purchase at Namecheap

About rnewsworld

Check Also

पंजाब विश्वविद्यालय: पहली बार… चुनाव के 20 दिन बाद भी पुटा अध्यक्ष नहीं बन पाए सीनेट के सदस्य

सुशील कुमार, अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Wed, 28 Oct 2020 11:44 AM IST पंजाब विश्वविद्यालय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bulletproof your Domain for $4.88 a year!