Wednesday, December 8, 2021
HomeStatesPunjabपठानकोट में आर्मी कैंप पर ग्रेनेड अटैक: बाइक सवार संदिग्ध ने कैंप...

पठानकोट में आर्मी कैंप पर ग्रेनेड अटैक: बाइक सवार संदिग्ध ने कैंप के गेट पर फेंका था ग्रेनेड, CCTV से पहचान की कवायद जारी; पूरे पंजाब में अलर्ट

पठानकोट20 मिनट पहले

पंजाब के पठानकोट जिले में आर्मी कैंप में ग्रेनेड से हमला किया गया है। ग्रेनेड कैंप के त्रिवेणी गेट पर फेंका गया। हालांकि हमले में कोई जानमाल का नुकसान नहीं हुआ, लेकिन पठानकोट में हाईअलर्ट है। चप्पा-चप्पा खंगाला जा रहा है। वहीं पूरे पंजाब में अलर्ट जारी कर दिया है। अमृतसर, जालंधर, बठिंडा, गुरदासपुर और अन्य सभी शहरों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। नाकों पर पुलिस अधिकारियों को तैनात किया गया है।

न्यूज एजेंसी के मुताबिक आर्मी कैंप के गेट से एक बारात निकल रही थी, उसी समय मोटरसाइकिल पर सवार होकर एक युवक गुजरा। इसी बाइक सवार पर ग्रेनेड फेंकने का शक है। पठानकोट के SSP सुरेंद्र लांबा ने बताया कि मामले की जांच जारी है, CCTV फुटेज खंगाले जा रहे हैं। पठानकोट के सभी चेकपोस्ट पर अलर्ट जारी कर दिया गया है। ब्लास्ट के बाद ग्रेनेड का हिस्सा बरामद कर लिया गया है।

बाइक सवारों ने फेंका ग्रेनेड
एसएसपी सुरिंदर लांबा ने सतंरी से मिली जानकारी के आधार पर बताया कि रात को कैंप के सामने से एक बाइक गुजरी थी। उस पर सवार लोगों ने गेट की तरफ ग्रेनेड फेंका, जिसमें ब्लास्ट हो गया। उसने अधिकारियों को सूचना दी। इलाके को तुरंत सील करके चप्पा-चप्पा खंगाला गया। गेट पर लगे CCTV भी खंगाले जा रहे हैं।

आर्मी कैंप हमले के बाद पठानकोट हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है। चेकपोस्ट पर सख्ती बढ़ा दी गई है।

भारतीय सेना का सबसे महत्वपूर्ण ठिकाना
बता दें कि पंजाब का पठानकोट जिला भारतीय सेना के सर्वाधिक महत्वपूर्ण ठिकानों में से एक है। यहां पर भारतीय वायुसेना का स्टेशन, सेना का गोला- बारूद डिपो और दो बख्तरबंद ब्रिगेड व बख्तरबंद इकाइयां हैं।

पठानकोट में ब्लास्ट के बाद घटनास्थल पर पड़े ग्रेनेड के टुकड़े, इनकी जांच की जा रही है।

पठानकोट में ब्लास्ट के बाद घटनास्थल पर पड़े ग्रेनेड के टुकड़े, इनकी जांच की जा रही है।

5 साल पहले पठानकोट एयरबेस पर हुआ था आतंकी हमला
पठानकोट में वायु सेना के एयरबेस पर 2 जनवरी 2016 को आतंकी हमला हुआ था। भारतीय सेना की वर्दी में आए हथियारबंद आतंकियों ने इसे अंजाम दिया था। इसमें 7 जवान शहीद हुए थे। सभी आतंकी भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर रावी नदी के रास्ते आए थे। भारतीय इलाके में पहुंचकर आतंकियों ने कुछ गाड़ियों को हाईजैक किया था और पठानकोट एयरबेस पहुंचे थे।

फिरोजपुर में मिल चुका है हैंड ग्रेनेड
दो दिन पहले ही फिरोजपुर जिले की तहसील जीरा के गांव सेखा से टिफिन बम मिला था। बम को टिफिन में बंद कर जमीन में दबाया गया था। पौधारोपण के दौरान यह बम मिला था। इससे पहले भी पंजाब में आधा दर्जन से ज्यादा टिफिन बम और हैंड ग्रेनेड मिल चुके हैं। यही नहीं पुलिस ने ऐसे तीन मोड्यूल का भंडाफोड़ भी किया है, जिसमें लोग पैसे के लिए आतंकी वारदात करने को तैयार हुए हैं।

जलालाबाद में हो चुका है ब्लास्ट
फाजिल्का जिले के जलालाबाद में भी एक ब्लास्ट हो चुका है। 15 सितंबर 2021 को दो युवक मोटरसाइकिल पर बम प्लांट करके इसे जलालाबाद की सब्जी मंडी में खड़ा करने जा रहे थे, मगर यह बम रास्ते में ही बीच बाजार फट गया था और बलविंदर सिंह नामक युवक के चिथड़े उड़ गए थे। पुलिस ने इस मामले में प्रवीण सिंह, मनजीत सिंह और रणजीत सिंह के अलावा कुछ अन्य लोगों को गिरफ्तार किया हुआ है, जिनसे हथियार भी बरामद हुए। जगराओं की सीआईए पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है।

खबरें और भी हैं…

पंजाब | दैनिक भास्कर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments