Sunday, December 5, 2021
HomeStatesBiharपटना के कपड़ा गोदाम में भीषण अगलगी: 6ठे फ्लोर पर लगी आग,...

पटना के कपड़ा गोदाम में भीषण अगलगी: 6ठे फ्लोर पर लगी आग, काबू पाने में 14 गाड़ी के साथ जुटे 40 फायरमैन

पटना26 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

आग से नुकसान का आकलन किया जा रहा है।

पटना में शनिवार की देर रात एक बड़ा हादसा हो गया। एक बिल्डिंग के 6ठे फ्लोर पर भयानक आग लगा गया। इसके बाद उस बिल्डिंग कैम्पस से लेकर आसपास के पूरे इलाके में अफरातफरी मच गई। देर रात आग लगने की घटना गांधी मैदान से चंद कदम की दूरी पर ठाकुर बारी रोड में स्थित रुपक विजन बिल्डिंग में लगी। यह एक कॉमर्शियल बिल्डिंग है। आग इसके 6ठे फ्लोर पर लगी। जिस पर बजरंग लाल के कपड़े का गोदाम है। इस कारण उस फ्लोर पर आग बहुत तेजी से फैली और काफी कम समय में चारों तरफ फैल गईं।

कपड़े का गोदाम धू-धूकर पूरी तरह से जल गया। जैसे-जैसे आग फैल रही थी, वैसे-वैसे अंदर से कुछ फटने की तेज आवाज भी कई बार दूर तक सुनाई दी। भीषण आग लगने की सूचना मिलते ही कदमकुआं थाना से लेकर आसपास के 5 थानों की टीम मौके पर पहुंच गई। कुछ देर में ही फायर ब्रिगेड की गाड़ी भेजी गई। 2 हाइड्रोलिक प्लेटफार्म सहित फायर ब्रिगेड की कुल 14 गाड़ियां मौके पर पहुंची। बगैर समय गवाएं टीम आग पर काबू पाने में जुट गई। इस काम में 40 से अधिक फायर मैन जुटे। मौके पर टाउन ASP अमित भी आए। रात 2 बजे के बाद भी सभी मौके पर डटे रहे। बिल्डिंग की ऊंचाई अधिक है। साथ ही इसके पीछे से रास्ता नहीं है।

इस कारण आग बुझाने में फायर मैन को कड़ी मुश्किलों का सामना करना पड़ा। बिल्डिंग के बाहर खड़ी गाड़ियों को धक्का देकर हटाया गया। अनुमान लगाया जा रहा है कि आग लगने से बड़ा नुकसान हुआ है। लाखों रुपए की कीमती साड़ियां जल गई हैं। आग कैसे लगी? देर रात तक स्पष्ट नहीं हो सका था। हालांकि, इस भीषण घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है।

छोटी-बड़ी 36 दुकानें हैं इस बिल्डिंग में

मौके पर मौजूद लोगों के अनुसार इस कॉमर्शियल बिल्डिंग में कुल 36 छोटे-बड़े दुकान हैं। ज्यादातर इसमें कपड़े की दुकानें हैं। बगल की बिल्डिंग में रिपब्लिक होटल व होंडा सांई शोरूम भी है। रात करीब 2 बजे तक आग पर काबू नही पाया जा सका। आग लगने के बाद कुछ देर तक धुंए का गुबार इलाके में छा गया। धुएं और आग की लपटों से पूरा गोदाम घिर गया। बिल्डिंग में निर्माण कार्य भी चल रहा है। बांस बल्ला भी आग की चपेट में आ गया।

बिल्डिंग की ऊंचाई अधिक

बिल्डिंग की ऊंचाई अधिक और दूसरा कोई रास्ता नही होने की वजह से फायर ब्रिगेड की टीम को बिल्डिंग के अंदर दाखिल होने के लिए खिड़कियों का शीशा फोड़ना पड़ा और दीवार को तोड़ना पड़ा। आग पर काबू पाने के दरम्यान हाइड्रोलिक प्लेटफार्म का पानी भी खत्म हो गया था। इस कारण बाद में पानी के लिए दूसरे गाड़ी के पाइप को जोड़ा गया। एहतियात बरतते हुए इलाके की बिजली सप्लाई को बन्द कर दिया गया। आग लगने की सूचना पर आसपास के लोग भी वहां पहुंच गए। बिजली कटने से आसपास के इलाके में अंधेरा छा गया। टाउन ASP अमित रंजन के अनुसार, अगलती कितनी दुकानें जली हैं और कितने का नुकसान हुआ है, इसका आकलन किया जा रहा है।

खबरें और भी हैं…

बिहार | दैनिक भास्कर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments