Breaking News

पक्षियों का रेस्क्यू ऑपरेशन: मकर संक्रांति के दिन अहमदाबाद में 500 से ज्यादा पक्षी हुए घायल, करुणा अभियान द्वारा किया गया सभी का इलाज

  • Hindi News
  • Local
  • Gujarat
  • More Than 500 Birds Injured In Ahmedabad On The Day Of Makar Sankranti, All Were Treated By Karuna Abhiyan

अहमदाबाद2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

पक्षियों के इलाज के लिए करुणा अभियान के तहत पूरी टीम तैयार थी।

उत्तरायण का त्योहार पतंगरसिकों के लिए आनंद और मजे के लिए होता है। लेकिन पशु-पक्षियों के लिए यह त्योहार आंसू लेकर आता है। पतंग की डोरी हर साल सैकड़ों पक्षी घायल हो जाते हैं। इस बार भी यही हुआ। मकर संक्रांति के दिन अहमदाबाद में ही करीब 500 से ज्यादा पक्षी घायल हुए, लेकिन सरकार द्वारा चलाए गए करुणा अभियान के तहत पूरी टीम तैयार थी। जैसे ही कहीं से सूचना मिली कि अमुक स्थान पर पक्षी घायल हुआ है, तो टीम तुरंत वहां पहुंचकर पक्षी का तत्काल इलाज किया। अहमदाबाद में सबसे ज्यादा कबूतरों को बचाया गया और उनका इलाज किया गया।

दो दिवसीय शिविर में 12 डॉक्टर और 85 से अधिक स्वयंसेवक शामिल हैं।

दो दिवसीय शिविर में 12 डॉक्टर और 85 से अधिक स्वयंसेवक शामिल हैं।

एनजीओ ने नरोडा में नवयुग स्कूल के पास दो दिवसीय शिविर का आयोजन
अहमदाबाद के नए नरोडा क्षेत्र में संवादा पक्षी और पशु हेल्पलाइन नामक एक गैर सरकारी संगठन ने 14-15 जनवरी को नवयुग स्कूल में पक्षियों के उपचार और बचाव के लिए दो दिवसीय शिविर का आयोजन किया है। एनजीओ की स्वयंसेवक कोमल मिस्त्री ने कहा, “उत्तरायण उत्सव के दौरान कई पक्षी घायल हो जाते हैं, इसलिए हमने पक्षियों के इलाज के लिए शिविर लगाया है, जिसमें उत्तरायण के दिन 155 से अधिक पक्षियों का इलाज किया गया और उन्हें बचाया गया।” विभिन्न स्वयंसेवकों द्वारा पक्षियों का इलाज और बचाव किया गया। दो दिवसीय शिविर में 12 डॉक्टर और 85 से अधिक स्वयंसेवक शामिल हैं।

सरकार की एनिमल हेल्पलाइन 1962 द्वारा अहमदाबाद शहर में लगभग 132 पक्षियों को भी बचाया गया।

सरकार की एनिमल हेल्पलाइन 1962 द्वारा अहमदाबाद शहर में लगभग 132 पक्षियों को भी बचाया गया।

फायर ब्रिगेड ने 35 पक्षियों को बचाया
उत्तरायण के दिन अहमदाबाद फायर ब्रिगेड द्वारा कुल 35 पक्षियों और आज सुबह 10 बजे तक 14 पक्षियों को बचाया गया। पतंग कटने के बाद पेड़ों पर फंसी डोरी के कारण पक्षी पेड़ में फंस जाते हैं और बाद में बाहर नहीं निकल पाते। इसलिए स्थानीय लोगों ने भी दमकल की मदद से उन्हें बचाया। सरकार की एनिमल हेल्पलाइन 1962 द्वारा अहमदाबाद शहर में लगभग 132 पक्षियों को भी बचाया गया।

चाइनीज रस्सी से पक्षी घायल
पिछले कई वर्षों से पशु जीवन देखभाल संगठन द्वारा कोट क्षेत्र में पक्षी बचाओ अभियान के तहत शिविरों का आयोजन किया जा रहा है। विजय डाभी का कहना है कि उत्तरायण के दिन हमें 17 फोन आए और ज्यादातर कबूतर के घायल होने के थे। ज्यादातर पक्षी चाइनीज मांजे से घायल हुए हैं। चाइनीज डोरी की वजह से एक दुर्लभ नकटो पक्षी भी गंभीर रूप से घायल हो गया है। उसका इलाज एनिमल लाइफ केयर के एक पशु चिकित्सक ने किया और उसे आगे के इलाज के लिए वन अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

खबरें और भी हैं…

गुजरात | दैनिक भास्कर

Check Also

हर्ष सांघवी Vs नितिन पटेल: अमेरिका में 4 गुजरातियों की मौत पर नितिन पटेल ने कहा – यहां मौके नहीं, गृह राज्य मंत्री बोले- गुजरात में सबसे ज्यादा मौके

Hindi News Local Gujarat On The Death Of 4 Gujaratis In America, Nitin Patel Said …

बच्चे का अपहरण: सूरत में दो वर्षीय बच्चे का अपहरण, बुर्काधारी महिला की तलाश, पुलिस को बच्चे की मां की बातों पर संदेह

Hindi News Local Gujarat Kidnapping Of Two year old Child In Surat, Looking For A …

इलेक्ट्रिक बाइक का बढ़ता क्रेज: सूरत में बढ़ी इलेक्ट्रिक बाइक की इतनी डिमांड कि शहर से पूरा स्टॉक ही खत्म, अब दो महीने की चल रही वेटिंग

Hindi News Local Gujarat There Is So Much Demand For Electric Bikes In Surat That …

कोरोना का पीक गुजरा!: पिछले 5 दिन से लगातार नए मरीज घट रहे, रिकवर बढ़ रहे; 3-4 दिन में तीसरी लहर से उबर जाएगा गुजरात

Hindi News Local Gujarat New Patients Are Decreasing Continuously For The Last 5 Days, Recoveries …

गुजरात में गणतन्त्र दिवस समारोह: वेरावल के सद्भावना स्टेडियम में मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने फहराया तिरंगा, कोरोना के चलते सांस्कृतिक कार्यक्रम रद्द

Hindi News Local Gujarat Chief Minister Bhupendra Patel Hoisted The Tricolor At Veraval’s Sadbhavna Stadium, …

Leave a Reply

Your email address will not be published.