झारखंड में दारोगा ने की आत्महत्या: परिजन बोले- पलामू SP अवैध वसूली का दबाव बनाते थे, निलंबन मुक्त करने के लिए 10 लाख रुपए मांग रहे थे

0
31

  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Daroga Lal Ji Yadadv Suicide Case; Palamu SP Used To Abuse Mother sister And Pressurize For Illegal Recovery

पलामू3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

झारखंड के पलामू के नवाबाजार के निलंबित दारोगा लालजी यादव के आत्महत्या मामले में अब नया मोड़ आ गया है। देर रात पलामू पहुंचे मृतक दारोगा के भाई संजीव कुमार ने पलामू के SP चंदन कुमार सिन्हा पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है कि उनके भाई ने आत्महत्या नहीं की, उसकी हत्या की गई है।

इस संबंध में उन्होंने पलामू के SP चंदन कुमार सिन्हा, DTO अनवर हुसैन और SDPO सुरजित कुमार के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। अपनी शिकायत में उन्होंने कहा है कि SP पिछले कुछ दिनों से लालजी को प्रताड़ित कर रहे थे। अवैध वसूली का दबाव डालते थे। ऐसा नहीं करने पर सस्पेंड और हत्या करा देने की धमकी तक देते थे। इसके कारण वह लगातार परेशान रह रहे थे। घर पर जब भी बात करते थे, हताश रहते थे।

मृतक दारोगा के परिजन अब RIMS में पोस्टमार्टम कराने की मांग पर अड़े हैं।

मृतक दारोगा के परिजन अब RIMS में पोस्टमार्टम कराने की मांग पर अड़े हैं।

उन्होंने अपनी शिकायत में कहा है कि DTO अनवर हुसैन की ओर से पकड़े गए अवैध गाड़ियों को उन्होंने रखने से मना किया तो सस्पेंड कर दिया गया। उन्हें निलंबन मुक्त करने के लिए 10 लाख रुपए मांगा जा रहा था नहीं तो उनकी जगह दूसरे थाना प्रभारी की पोस्टिंग करने की धमकी दी जा रही थी।

SP ने कहा- आरोप पूरी तरह बेबुनियाद हैं

वहीं इस मसले पर पलामू के SP चंदन कुमार सिन्हा ने दैनिक भास्कर को बताया कि यह आरोप पूरी तरह बेबुनियाद है। पूरी तरह मोटिवेटेड है। ऐसी कोई बात नहीं थी। सस्पेंड करना प्रशासनिक मजबूरी थी। वह DTO, SDPO यहां तक की मेरी बात सुनने के लिए तैयार नहीं थे। उन्होंने बताया कि रांची के बूढमू मालाखाना के चार्ज देने में हो रही परेशानी की बातें उन्होंने अपने कई बैचमेट्स से साझा की है। जांच में सारी चीजें स्पष्ट हो जाएगी।

परिजनों ने कहा- सोशल मीडिया से मिली मौत की जानकारी

लालजी यादव के परिजनों ने बताया कि उनकी मौत की ऑफिशियल जानकारी पुलिस की तरफ से नहीं दी गई। सोशल मीडिया से जानकारी मिलने के बाद वे पलामू पहुंचे। यहां पहुंचने के बाद जब तक शिकायत दर्ज नहीं हुई वे शव के पोस्टमार्टम के लिए तैयार नहीं हुए।

मृतक दारोगा के भाई संजीव कुमार ने कहा- उVके भाई को प्रताड़ित किया जा रहा था।

मृतक दारोगा के भाई संजीव कुमार ने कहा- उVके भाई को प्रताड़ित किया जा रहा था।

अब RIMS में पोस्टमॉर्टम कराने की कर रहे हैं मांग

पलामू मेडिकल कॉलेज में तीन डॉक्टरों का बोर्ड गठन कर शव का पोस्टमॉर्टम किया गया। उन्होंने कहा कि उन्हें शक है कि इसमें डॉक्टरों पर दबाव बनाया गया है। वे शव का दोबारा पोस्टमार्टम रांची के RIMS में कराना चाहते हैं।

लालजी यादव 2012 बैच के दारोगा थे।

लालजी यादव 2012 बैच के दारोगा थे।

क्या है मामला

नवाबाजार के निलंबित दारोगा लालजी यादव ने सोमवार देर रात अपने थाना परिसर में ही आत्महत्या की थी। कमरे में फंदे से लटकता हुआ उनका शव मिला था। एक सप्ताह पहले पलामू के DTO अनवर हुसैन से बकझक के बाद पलामू SP चंदन कुमार सिन्हा ने लालजी यादव को सस्पेंड कर दिया था।

पलामू में दारोगा ने थाना परिसर में ही किया सुसाइड:एक सप्ताह पहले DTO के साथ बकझक के बाद SP ने किया था सस्पेंड

दारोगा की आत्महत्या पर हंगामा:पलामू के DIG ने कहा- रांची में मालखाने का चार्ज देने में हो रही थी परेशानी, ग्रामीण SP ने कहा-सब शांति से हुआ

खबरें और भी हैं…

झारखंड | दैनिक भास्कर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here