Wednesday, December 8, 2021
HomeStatesJammu & Kashmirजम्मू-कश्मीर: राजोरी में घुसपैठ कर रहा पाकिस्तानी आतंकी मारा गया, हथियार और...

जम्मू-कश्मीर: राजोरी में घुसपैठ कर रहा पाकिस्तानी आतंकी मारा गया, हथियार और अन्य सामान बरामद 

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू
Published by: विमल शर्मा
Updated Fri, 26 Nov 2021 09:18 AM IST

सार

राजोरी जिले में घुसपैठ की आशंका को देखते हुए सीमा पर अलर्ट जारी कर दिया गया है। पूरे इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। 

ख़बर सुनें

ख़बर सुनें

राजोरी जिले के बिंबर गली में घुसपैठ कर रहा पाकिस्तानी आतंकी को सेना ने मार गिराया है। उसके पास से हथियार और अन्य सामग्री मिली है। घुसपैठ की आशंका को देखते हुए सेना ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया है। इसके अलावा सीमा पर सुरक्षा ग्रिड बढ़ा दी गई है। फिलहाल आतंकी की पहचान नहीं हो पाई है। इससे पहले गुरुवार को सेना ने गुलपुर सेक्टर के चक्कां दा बाग क्षेत्र में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान के कब्जे वाले इलाके से भारतीय क्षेत्र में घुस आए एक किशोर को पकड़ा है। वह सीमा पार रावलाकोट जिले का रहने वाला है। 

गुलपुर सेक्टर में तैनात सेना की 3/3 गोरखा रेजिमेंट के जवानों ने अग्रिम चौकी छबीली के पास संदिग्ध अवस्था में एक बालक को भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करते देखा। उसे तुरंत पकड़ कर गुलपुर स्थित मुख्यालय लाया गया। जहां पूछताछ चल रही है। इस वर्ष अभी तक जिले में नियंत्रण रेखा के उस पार से इस प्रकार नाबालिगों के भारतीय क्षेत्र में घुस आने का यह पांचवां मामला है।

इससे पूर्व पेश आए चार मामलों में से मामलों में तीन पाकिस्तानी नाबालिगों को चक्कां दा बाग के रास्ते वतन वापस लौटा दिया गया था। परंतु उसके बाद पेश आए दो मामलों में इस बार घुस आने वालों से पूछताछ के दौरान उनको जानबूझ कर इस पार भेजे जाने का खुलासा होने के कारण उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई जारी है।

उन दो मामलों में से एक नाबालिग तो ऐसा है जो एक वर्ष के भीतर दूसरी बार भारतीय क्षेत्र में घुसते हुए दबोचा गया है। वह पहले पुंछ से दबोचे जाने पर वतन लौटाए जाने के बाद इस वर्ष दोबारा मेंढर के मनकोट क्षेत्र में घुसपैठ करते दबोचा गया। पूछताछ में उसने खुलासा किया था कि उसे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी द्वारा इस तरफ भेजा गया था। 
 

J&K: A Pak terrorist was eliminated as Army foiled an infiltration bid in Rajouri’s Bhimber Gali last night. Weapon and ammunition were recovered. The operation is in progress: White Knight Corps

— ANI (@ANI) November 26, 2021

भारत पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर चलाया गया एंटी टनल ऑपरेशन 
पठानकोट में सैन्य शिविर के बाहर ग्रेनेड हमले के बाद कठुआ जिले में भारत पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर भी चौकसी को काफी बढ़ा दिया गया है। संघर्ष विराम के बीच पाकिस्तान की घुसपैठ करवाने की ओछी हरकतों को नाकाम करने के लिए सुरक्षा एजेंसियां और भी सतर्क हो गई हैं।

वीरवार को बीएसएफ, एसओजी और सीआरपीएफ की ओर संयुक्त तलाशी अभियान चलाया गया। विशेष रूप से एंटी टनल ऑपरेशन को अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे इलाकों में अंजाम दिया गया। सुरक्षा दस्तों ने आईबी पर मनियारी से लेकर बीओपी फकीरा के बीच के इलाके को अच्छी तरह से खंगाला।

दो घंटे तक पाकिस्तानी सीमा से लगे इलाकों को खंगालने के बाद भी हालांकि कुछ हाथ नहीं लगा है। खूफिया सूत्रों की मानें तो सर्दियों से पहले अंतरराष्ट्रीय सीमा से घुसपैठ के पुराने इतिहास को देखते हुए भी कोई कोताही नहीं बरती जा रही है। बताया कि फिलहाल यह एंटी टनल ऑपरेशन आने वाले दिनों में भी जारी रहेगा।

विस्तार

राजोरी जिले के बिंबर गली में घुसपैठ कर रहा पाकिस्तानी आतंकी को सेना ने मार गिराया है। उसके पास से हथियार और अन्य सामग्री मिली है। घुसपैठ की आशंका को देखते हुए सेना ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया है। इसके अलावा सीमा पर सुरक्षा ग्रिड बढ़ा दी गई है। फिलहाल आतंकी की पहचान नहीं हो पाई है। इससे पहले गुरुवार को सेना ने गुलपुर सेक्टर के चक्कां दा बाग क्षेत्र में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तान के कब्जे वाले इलाके से भारतीय क्षेत्र में घुस आए एक किशोर को पकड़ा है। वह सीमा पार रावलाकोट जिले का रहने वाला है। 

गुलपुर सेक्टर में तैनात सेना की 3/3 गोरखा रेजिमेंट के जवानों ने अग्रिम चौकी छबीली के पास संदिग्ध अवस्था में एक बालक को भारतीय क्षेत्र में घुसपैठ करते देखा। उसे तुरंत पकड़ कर गुलपुर स्थित मुख्यालय लाया गया। जहां पूछताछ चल रही है। इस वर्ष अभी तक जिले में नियंत्रण रेखा के उस पार से इस प्रकार नाबालिगों के भारतीय क्षेत्र में घुस आने का यह पांचवां मामला है।

इससे पूर्व पेश आए चार मामलों में से मामलों में तीन पाकिस्तानी नाबालिगों को चक्कां दा बाग के रास्ते वतन वापस लौटा दिया गया था। परंतु उसके बाद पेश आए दो मामलों में इस बार घुस आने वालों से पूछताछ के दौरान उनको जानबूझ कर इस पार भेजे जाने का खुलासा होने के कारण उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई जारी है।

उन दो मामलों में से एक नाबालिग तो ऐसा है जो एक वर्ष के भीतर दूसरी बार भारतीय क्षेत्र में घुसते हुए दबोचा गया है। वह पहले पुंछ से दबोचे जाने पर वतन लौटाए जाने के बाद इस वर्ष दोबारा मेंढर के मनकोट क्षेत्र में घुसपैठ करते दबोचा गया। पूछताछ में उसने खुलासा किया था कि उसे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी द्वारा इस तरफ भेजा गया था। 

 

J&K: A Pak terrorist was eliminated as Army foiled an infiltration bid in Rajouri’s Bhimber Gali last night. Weapon and ammunition were recovered. The operation is in progress: White Knight Corps

— ANI (@ANI) November 26, 2021

भारत पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर चलाया गया एंटी टनल ऑपरेशन 

पठानकोट में सैन्य शिविर के बाहर ग्रेनेड हमले के बाद कठुआ जिले में भारत पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर भी चौकसी को काफी बढ़ा दिया गया है। संघर्ष विराम के बीच पाकिस्तान की घुसपैठ करवाने की ओछी हरकतों को नाकाम करने के लिए सुरक्षा एजेंसियां और भी सतर्क हो गई हैं।

वीरवार को बीएसएफ, एसओजी और सीआरपीएफ की ओर संयुक्त तलाशी अभियान चलाया गया। विशेष रूप से एंटी टनल ऑपरेशन को अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे इलाकों में अंजाम दिया गया। सुरक्षा दस्तों ने आईबी पर मनियारी से लेकर बीओपी फकीरा के बीच के इलाके को अच्छी तरह से खंगाला।

दो घंटे तक पाकिस्तानी सीमा से लगे इलाकों को खंगालने के बाद भी हालांकि कुछ हाथ नहीं लगा है। खूफिया सूत्रों की मानें तो सर्दियों से पहले अंतरराष्ट्रीय सीमा से घुसपैठ के पुराने इतिहास को देखते हुए भी कोई कोताही नहीं बरती जा रही है। बताया कि फिलहाल यह एंटी टनल ऑपरेशन आने वाले दिनों में भी जारी रहेगा।

Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | – Amar Ujala

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments