गंगा घाट पर उमड़ी लोगों की भीड़, लगाई डुबकी: बिना मास्क लगाए लोग पहुंचे घाट, कहा- आज नहाने से कोरोना गंगा मैया में बह जाएगा

0
20

​​​​​​​बक्सर12 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

गंगा घाट पर स्नान के लिए उमड़ी भीड़।

मकर संक्रांति पर शनिवार को जिले के कई गंगा घाट पर लोगों की खूब भीड़ उमड़ी। लोगों ने गंगा में डुबकी लगाई और फिर दही-चूड़ा का सेवन किया। पर इस दौरान लोगों ने कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ा दी। ना मास्क लगाया और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का ही ध्यान रखा। साथ ही घाट पर मौजूद मजिस्ट्रेट व पुलिस मूक दर्शक बनी रही। वहीं, जब लोगों से इस भीड़ में आने और मास्क ना लगाने के बारे में पूछ गया तो कई ने कहा- ‘कोरोना से डर तो लगता है। पर आज नहाने से कोरोना गंगा मैया में बह जाएगा।’

पुलिस भी नहीं पालन करा सकी कोरोना गाइडलाइन का

कई गंगा घाट पर हजारों लोगों की भीड़ उमड़ी। प्रत्येक घाटों पर सुरक्षा के लिहाज से महिला व पुरुष पुलिसकर्मी मौजूद रहे। बावजूद लोगों की भीड़ घाटों पर उमड़ी और कोरोना गाइडलाइन का किसी ने पालन नहीं किया।

लोगों ने मास्क तक नहीं लगाया।

लोगों ने मास्क तक नहीं लगाया।

सबसे अधिक भीड़ राम रेखा घाट पर

बक्सर के 8 घाटों में सबसे अधिक भीड़ राम रेखा घाट पर देखी गई। मुख्य मार्ग बंद होने के कारण साइड वाले रास्ते से लोग नदी के तट पर पहुंचे और स्नान किया। इधर, घाट पर स्नान करने वाले लोगों से जब पूछा गया कि इस भीड़ वाले घाट पर आने से डर नहीं लगा। तो कई ने कुछ बोलने से परहेज किया तो कई ने कहा- मकर संक्रांति के कारण आज गंगा में स्नान जरूरी है।

स्नान के दौरान लोगों ने कोराना गाइड लाइन का बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखा।

स्नान के दौरान लोगों ने कोराना गाइड लाइन का बिल्कुल भी ध्यान नहीं रखा।

खबरें और भी हैं…

बिहार | दैनिक भास्कर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here