Breaking News

कोटा की सड़कें दे रहीं दर्द: शहर की ज्यादातर सड़कें गड्ढों में तब्दील, लोगों में स्लिप डिस्क की समस्या बढ़ी, रीढ़ की हड्डी को पहुंच रहा नुकसान

  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • Most Of The Roads In The City Turned Into Potholes, The Problem Of Slip Disc Increased Among The People, Damage To The Spinal Cord

कोटा15 मिनट पहले

कोटा की सड़कें दे रहीं दर्द

कोटा में सड़कें गड्ढों में तब्दील होती जा रही है। आलम यह है कि ज्यादातर सड़कों पर कंक्रीट बिखरा हुआ नजर आता है और बड़े-बड़े गड्ढे नजर आते हैं। इसका सीधा असर शहर के वाहन चालकों पर पड़ रहा है। परेशानी होती है वह तो अलग बात है लेकिन शरीर को भी नुकसान पहुंच रहा है। गड्ढों पर बार-बार वाहन निकलने के चलते वाहन चालक की रीढ़ की हड्डी को नुकसान पहुंच रहा है।

स्लिप डिस्क जैसी बीमारी से लोग ग्रसित हो रहे हैं। न्यू मेडिकल कॉलेज अस्पताल में स्लिप डिस्क की शिकायत लेकर ही हर महीने 8 से 10 लोग पहुंच रहे हैं। रीढ़ की हड्डी जुड़ी अन्य समस्याओं को लेकर जाने वाले मरीजों की तादाद ज्यादा है। इनमें 3 से 4 मरीज तो सड़क के गड्ढों की वजह से ही स्लिप डिस्क जैसी समस्या के शिकार हो रहे हैं।

इनमें भी युवा ज्यादा है। शहर में कई जगह कार्य चल रहे हैं। इनकी वजह से भी आधा शहर खुदा पड़ा है। स्थिति यह है कि काम खत्म होने के बाद भी गड्ढों को भरा नहीं जाता। शहर के जवाहर नगर, कुन्हाड़ी, विज्ञान नगर समेत कमोबेश हर जगह यही स्थिति है।

ऐसे हो रही समस्या

शरीर रीढ़ की हड्डी पर टिका है। बाइक चलाने पर शरीर का पूरा दबाव कमर और गर्दन से जुड़ी रीढ़ की हड्डी पर आ जाता है। सड़कों पर अधिक गड्ढे होने या खस्ताहाल होने पर झटके लगते हैं। इससे रीढ़ की हड्डी पर दबाव पड़ता है। इसके अलावा कंधों के जोड़ और कलाई पर भी जोर पड़ता है। इससे कलाई में दर्द हो सकता है तो यदि गड्ढे अधिक गहरे और बड़े हों और गाड़ी की स्पीड अधिक हो तो कंधे वाली जोड़ की हड्डी खिसक सकती है। फिलहाल सड़क पर गड्ढे होने का सबसे अधिक असर रीढ़ से जुड़े हिस्सों पर होता है। इस वजह से कमर, गर्दन में दर्द शुरू हो जाता है। इसके अलावा बैक किक भी हो सकती है। ऐसा होने पर कमर के अलावा शरीर के निचले हिस्सों में दर्द होने लगता है।

कैसे होती है स्लिप डिस्क की समस्या

ऊबड़ खाबड़ सड़कों पर गाड़ी चलाने के दौरान झटका लगने से रीढ़ की हड्डी से डिस्क बाहर निकल आती है और स्पाइनल कॉर्ड दबने लगता है। इस कारण पैरों में झनझनाहट होती है। गड्ढों के कारण तेज झटका लगने से पैरों में लकवा तक हो सकता है।

खबरें और भी हैं…

राजस्थान | दैनिक भास्कर

Check Also

चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर किया रेप, वीडियो बनाया: वीडियो वायरल करने की धमकी देकर बुलाने का बनाया दबाव, पुलिस ने शिकायत दर्ज की लेकिन कार्रवाई नहीं की

भरतपुरएक घंटा पहले रेप पीड़ित अपने पति और बच्चे के साथ आईजी से मिलने जाती …

पहली बार ऑनलाइन ठगी के नेटवर्क का पर्दाफाश: लगभग हर बड़ी वेबसाइट का क्लोन बनाया, कॉल किया तो बोले- 5 मिनट दें, समस्या खत्म कर देंगे

भरतपुर4 मिनट पहलेलेखक: गौरव माथुर राजस्थान में साइबर ठगी के मामले बढ़ते जा रहे हैं। …

राष्ट्रीय ध्वज का अपमान: पंचायत प्रशासन की लापरवाही से कोड्याई ग्राम पंचायत मुख्यालय पर रातभर लहराता रहा तिरंगा

सवाई माधोपुर12 मिनट पहले कोड्याई ग्राम पंचायत मुख्याल पर रात में लहराता तिरंगा। सवाई माधोपुर …

सरकारी स्कूल का बच्चों ने जड़ा ताला: ऊंदरी गांव के सरकारी स्कूल में आक्रोशित बच्चों ने किया हंगामा, कमरें और खेल मैदान विकसित करने की रखी मांगें

उदयपुर43 मिनट पहले कॉपी लिंक नारेबाजी कर रहे बच्चों को शांत करवाते शिक्षा विभाग के …

पटवारियों ने सरपंच के खिलाफ मोर्चा: पद से हटाने की मांग, अनिश्चितकालीन धरने की चेतावनी; पटवार संघ ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

अजमेर27 मिनट पहले कॉपी लिंक कलेक्टर को ज्ञापन। अजमेर में सरपंच व पटवारी में हुए …

Leave a Reply

Your email address will not be published.