Breaking News
DreamHost

किसानों की आय बढ़ाने में मदद करेगा Indian Railways, फलों-सब्जियों के किराये में मिलेगी भारी छूट

भारतीय रेलवे ने किसानों को बड़ा तोहफा दिया है. (File Photo)

मोदी सरकार की इस पहल की वजह से भारतीय रेल (Indian Railways) के जरिए मंडी तक फलों, सब्जियों को पहुंचाने की लागत कम हो जाएगी और उनकी आय में वृद्धि होगी.

  • News18Hindi

  • Last Updated:
    October 15, 2020, 7:17 PM IST

नई दिल्ली. मोदी सरकार ने किसानों की आय बढ़ाने के लिए एक और बड़ा कदम उठाया है. किसान रेल के जरिए भी यह काम किया जाएगा. अब किसान रेल में फलों और सब्जियों के किराये में भारी छूट दे दी गई है. अब इसके लिए आधा किराया लिया जाएगा. यानी किसान रेल अब पहले के मुकाबले ज्यादा मददगार साबित होगी. सरकार ने अधिसूचित फलों एवं सब्जियों की ढुलाई पर 50 फीसदी सब्सिडी देने का आदेश जारी किया है. यह सब्सिडी आपरेशन ग्रीन-टॉप टू टोटल योजना के तहत दी जाएगी.

इसकी वजह से मंडी तक सामान पहुंचाने की लागत कम हो जाएगी और उनकी आय में वृद्धि होगी. केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि टमाटर, प्याज व आलू (TOP) के साथ अन्य सभी फल-सब्जियों (TOTAL) पर परिवहन सब्सिडी अब KisanRail योजना के तहत भी उपलब्ध होगी. किसानों सहित कोई भी व्यक्ति, अधिसूचित फल व सब्जी को किसान रेल के माध्यम से केवल 50% भाड़े पर परिवहन कर सकता है.

Indian Railways, Kisan Rail, 50 percent subsidy on rail freight, fruits and vegetables, kisan trains, farmers news, भारतीय रेल, किसान रेल, रेल भाड़ा, फल और सब्जियां, किसान ट्रेन के किराये में 50 प्रतिशत छूट

फलों-सब्जियों के लिए आधा लगेगा किराया (File Photo)

इसे भी पढ़ें: पीएम किसान स्कीम: 2000 रुंपये के इंतजार में बैठे हैं 1.35 करोड़ आवेदकमालूम हो कि केंद्री वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत घोषणा की थी कि 500 करोड़ रुपये के अतिरिक्त कोष के साथ खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय ने पायलट आधार पर छह महीने के लिए ऑपरेशन ग्रीन योजना का विस्तार किया है. सरकार ने टमाटर, प्याज और आलू (टॉप) से लेकर सभी फल एवं सब्जियों (टोटल) को इसके दायरे में लाने की घोषणा की थी.

किसान रेल की कितनी बढ़ गई लोडिंग

सात सितंबर को रेल मंत्रालय ने बताया था कि उद्घाटन के दिन 7 अगस्त 2020 को किसान (Farmer) रेल पर लोडिंग 90.92 टन की हुई थी, जो 14 अगस्त को 99.91 टन और 21 को 235.44 टन हो गई. इसके बाद इसे सप्ताह में दो बार किया गया. लेकिन 1 सितंबर को 354.29 टन लोडिंग हुई. इसलिए इसके तीन फेरे कर दिए गए. लोडिंग में और वृद्धि की संभावना जताई गई है.

Indian Railways, Kisan Rail, 50 percent subsidy on rail freight, fruits and vegetables, kisan trains, farmers news, भारतीय रेल, किसान रेल, रेल भाड़ा, फल और सब्जियां, किसान ट्रेन के किराये में 50 प्रतिशत छूट

इस तरह बढ़ेगी किसानों की आय

इसे भी पढ़ें:  अब PMFBY को लेकर कई राज्य उठाने वाले हैं बड़ा कदम

किसान रेल की भारी मांग को ध्‍यान में रखते हुए भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने देवलाली-मुजफ्फरपुर किसान रेल (Devlali-Muzaffarpur-Devlali Kisan Rail) और सांगोला-मनमाड-दौंड किसान रेल (Sangola-Manmad-Daund Link Kisan Rail) के फेरे को बढ़ाकर सप्ताह में तीन दिन कर दिया है.

Latest News मनी News18 हिंदी

Free WhoisGuard with Every Domain Purchase at Namecheap

About rnewsworld

Check Also

Gold Price Today: लगातार दूसरे दिन सस्ता हुआ सोना, जानिए 10 ग्राम के नए दाम

Gold Silver Price, 27 October 2020: घरेलू बाजार में लगातार दूसरे दिन सोने की कीमतों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Bulletproof your Domain for $4.88 a year!