Breaking News

इन्होंने नहीं लगवाई थी वैक्सीन अब जान सांसत में: प्रयागराज में भर्ती आठ कोरोना मरीजों में चार ने नहीं लगवाई थी वैक्सीन, BiPAP पर चल रहा इलाज

प्रयागराज7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

जिन दो मरीजों का बाईपैप मशीन से इलाज चल रहा है उन्होंने वैक्सीन नहीं लगवाई थी, इन्हें खतरा ज्यादा है। (फाइल फोटो)

अभी तक काेविड की वैक्सीन न लगाने वालों के लिए यह बुरी खबर है। ऐसा नहीं है कि जिन्होंने कोरोना रोधी वैक्सीन नहीं लगवाई है वह पूरी तरह से सुरक्षित और स्वस्थ हैं। ऐसे ही कुछ मरीजों के बारे में हम बात कर रहे हैं जिन्होंने कोरोना की वैक्सीन नहीं लगवाई थी और अब वह जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहे हैं। लेवल थ्री के एसआरएन अस्पताल की ICU में इन मरीजों का इलाज भी चल रहा है। यह मरीज BiPAP मशीन पर रखे गए हैं और डॉक्टरों के द्वारा इन्हें नया जीवनदान देने का प्रयास भी किया जा रहा है। यहां कोविड के आठ मरीज भर्ती हैं और इसमें चार मरीजों ने वैक्सीन तो लगवाई थी लेकिन बाकी चार मरीज वैक्सनेशन नहींं कराए थे। एसआरएन अस्पताल के नोडल डा. सुजीत कुमार वर्मा ने बताया कि आठ मरीजों में तीन जो BiPAP पर हैं उनमें दो ने वैक्सीनेशन नहीं कराया था। यह तीनों 60 वर्ष के उपर के हैं।

वैक्सीन लगवाने वाले मरीजों को ज्यादा खतरा नहीं

फिजिशियन डॉ. सुजीत कुमार बताते हैं कि अस्पताल में भर्ती मरीजों में जिन्होंने वैक्सीन लगवा रखी है उन्हें ज्यादा खतरा नहीं है। वैक्सीन लगवाने वाले एक मरीज को भी बाईपैप मशीन रखा गया है लेकिन वह हार्ट अटैक के मरीज हैं और उसमें कोविड हो गया।

भर्ती आठ मरीजों का यह हिस्ट्री

  • 62 वर्षीय मरीज को हार्ट अटैक आया था। इन्होंने वैक्सीन तो लगवाई थी फिर भी कोविड पॉजिटिव हो गए। हार्ट की वजह से परेशानी बढ़ी तो BiPAP मशीन पर रखकर इलाज किया जा रहा है।
  • 65 वर्षीय मरीज को सीओपीडी की पुरानी बीमारी है। निमोनिया भी है। वैक्सीन नहीं लगवाई थी अब BiPAP मशीन पर इलाज चल रहा है। पुरानी बीमारी की वहज से सांस लेने में तकलीफ ज्यादा है।
  • 60 वर्षीय महिला मरीज ने भी वैक्सीन नहीं लगवाई थी, निमोनिया की शिकायत हुई और हालत गंभीर होने पर इन्हें भी BiPAP मशीन पर रखा गया है।
  • 58 वर्षीय महिला ने वैक्सीनेशन तो कराया था लेकिन ब्रेन हेमरेज की वजह से कोविड की चपेट में आ गईं। आक्सीजन सपोर्ट पर इलाज च रहा है।
  • करीब 70 वर्षीय मरीज का पैर फ्रैक्चर था ऑपरेशन के पहले कोविड जांच पाजिटिव आ गया, इन्होंने भी वैक्सीन लगवा रखी थी। इन्हें ज्यादा खतरा नहीं है।

प्रेग्रनेंसी के कारण नहीं हुआ था टीकाकरण, दोनों पाजिटिव

एसआरएन के इसी आइसीयू वार्ड में दो गर्भवती महिलाएं भी हैं। प्रेग्रनेंसी के कारण दोनों को वैक्सीन नहीं लगे थे। यही कारण रहा कि दोनों पाजिटिव हुईं और अस्पताल में भर्ती हो गईं। इन दोनों में कोई लक्षण नहीं हैं। इनकी उम्र 25 और 28 वर्ष है।

खबरें और भी हैं…

उत्तरप्रदेश | दैनिक भास्कर

Check Also

उन्नाव में बोले साक्षी महाराज: जब जिलाधिकारी के यहां जाएं, तब आचार संहिता देखना, सदर प्रत्याशी के कार्यालय उद्घाटन में पहुंचे थे

Hindi News Local Uttar pradesh Unnao Sakshi Maharaj Said In Unnao, When Visiting The District …

रामपुर शहर सीट से आजम खां ने किया नामांकन: एक दिन पहले सीतापुर जेल में पूरी कई गई थी कागजी कार्यवाही, 3 प्रस्तावकों ने जमा किया पर्चा

रामपुर36 मिनट पहले कॉपी लिंक रामुपर शहर विधानसभा सीट से आज आजम खां का नामांकन …

उन्नाव में घटिया ईंटों से बन रही सड़क: ग्रामीणों ने काम रुकवाया, अधिकारियों के कहने पर फिर से शुरू हुआ

उन्नाव30 मिनट पहले कॉपी लिंक घटिया ईंटों से हो रहा सड़क का निर्माण। उन्नाव में …

सीतपुर में कांग्रेस ने 5 महिलाओं को दिया टिकट: 9 सीटों में से 8 पर उतारे प्रत्याशी, BSP ने अभी तक नहीं दिया टिकट; 4 सीटों पर आज BJP की आ सकती है सूची

सीतापुर19 मिनट पहले कॉपी लिंक सीतापुर में विधानसभा चुनाव का बिगुल बज चुका है। यहां …

पाकिस्तान में घर खरीद लें अखिलेश: पाकिस्तान को लेकर अखिलेश के बयान पर भड़के संत, कहा- पाकिस्तान में ही बस जाएं सपा प्रमुख

Hindi News Local Uttar pradesh Prayagraj Akhilesh Yadav Vs Pakistan Updates : Saints Furious Over …

Leave a Reply

Your email address will not be published.