Sunday, December 5, 2021
HomeOthersTechnologyइंटरनेशनल फ्लाइट्स 15 दिसंबर से शुरू: 632 दिन बाद हटा बैन, क्रिसमस-न्यू...

इंटरनेशनल फ्लाइट्स 15 दिसंबर से शुरू: 632 दिन बाद हटा बैन, क्रिसमस-न्यू ईयर पर विदेश जा सकेंगे; ट्रैवल करने पर 3 बातें ध्यान रखें

  • Hindi News
  • Tech auto
  • Regular International Flights Likely From Dec 15, Except For 14 Countries Where Covid Not Under Control

नई दिल्ली7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

क्रिसमस और न्यू ईयर देश के बाहर सेलिब्रेट करने का प्लान बना रहे लोगों के लिए गुड न्यूज है। दरअसल, सरकार ने पूरे 632 दिन के बैन के बाद 15 दिसंबर से इंटरनेशनल एयर ट्रैवल की इजाजत दे दी है। सरकार ने पिछले साल कोरोना लॉकडाउन से तीन दिन पहले 22 मार्च को इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर बैन लगा दिया था।

अब उन देशों की हवाई यात्रा की जा सकती है, जहां कोविड की स्थिति कंट्रोल में है। हालांकि 14 देशों की ट्रैवलिंग पर अभी भी प्रतिबंध जारी रहेगा। इनमें यूके, फ्रांस, जर्मनी, नीदरलैंड, फिनलैंड, साउथ अफ्रीका, ब्राजील, चीन, मॉरीशस, सिंगापुर, बांग्लादेश, बोत्सवाना, जिम्बाब्वे और न्यूजीलैंड शामिल हैं।

सरकार ने ये फैसला कोरोना वायरस के नए वैरिएंट के मद्देनजर लिया है। सरकार ने जिन 14 देशों के हवाई सफर पर अभी भी प्रतिबंध लगा रखा है, उनमें से कई देशों के साथ एयर बबल एग्रीमेंट के तहत फ्लाइट सर्विस जारी है। वर्तमान में भारत के अमेरिका, ब्रिटेन, यूएई समेत 31 देशों के साथ एयर बबल अरेंजमेंट हैं।

डोमेस्टिक फ्लाइट पूरी क्षमता के साथ उड़ाने की अनुमति
इंटरनेशनल फ्लाइट्स की ही तरह डोमेस्टिक फ्लाइट्स भी लॉकडाउन के दौरान प्रतिबंधित कर दी गई थी। हालांकि दो महीने के ब्रेक के बाद मई 2020 में लिमिटेड कैपेसिटी के साथ डोमेस्टिक फ्लाइट ऑपरेशन शुरू किए गए थे। पिछले महीने ही डोमेस्टिक फ्लाइट्स को पूरी क्षमता के साथ उड़ान की अनुमति दे दी गई है।

फ्लाइट बैन से कंपनियों की वित्तीय सेहत बिगड़ी
शेड्यूल इंटरनेशनल फ्लाइट पर लंबे समय से सस्पेंशन के चलते ज्यादातर एयरलाइंस की वित्तीय सेहत प्रभावित हुई हैं। विस्तारा ने कहा था कि विमानन क्षेत्र के रिवाइवल की सभी भविष्यवाणियां गलत साबित हुई हैं। इसलिए यह कहना जल्दबाजी होगी कि विमानन उद्योग पूरी तरह से संकट से बाहर आ चुका है।

इंटरनेशनल ट्रैवल करने से पहले इन बातों को रखें ध्यान

1. आप किसी विदेशी यात्रा पर जाने वाले हैं, तब कोविन ऐप पर इसकी जानकारी देनी होगी। कोविन पर आपको अपने पासपोर्ट की डिटेल देनी होगी।
2. आपका फुली वैक्सीनेटेड होना जरूरी है। अगर आपको वैक्सीन का सिंगल डोज लगा है, तब आप ट्रैवल नहीं कर पाएंगे। दोनों डोज का सर्टिफिकेट होना जरूरी है। इसे फोन में रखें।
3. ट्रैवल से पहले RT-PCR टेस्ट जरूर करा लें। अलग-अलग देशों में आपसे ये रिपोर्ट मांगी जा सकती है। टेस्ट की रिपोर्ट एक हफ्ते से ज्यादा पुरानी नहीं होनी चाहिए।

खबरें और भी हैं…

टेक ऑटो | दैनिक भास्कर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments